फेक न्यूज़ : बंगाल हिंसा का सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो निकला झूठा – पश्चिम बंगाल

फेक न्यूज़ : बंगाल हिंसा का सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो निकला झूठा

बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार बनते ही मुख्य धरा की मीडिया में बंगाल हिंसा की खरबों की बाढ़ आ गई। सभी राष्ट्रपति शासन की मांग करने लगे हिंसा में हुयी मौतों मो लेकर भाजपा देशयापी हड़ताल पर बैठ गई।

वंही एक के बाद एक सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो की हकीकत सामने आ रही है। हाल में ही वायरल वीडियो में एक शख्स गंभीर हालत में जमीन पर लेटा है। वहीं, एक महिला उस शख्स को पानी पिलाकर बचाने की कोशिश करते दिख रही है। उस शख्स के शरीर में कोई हलचल ना होते देख वह महिला बिलख कर रोने लगती है।

दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो बंगाल में हो रही हिंसा का है। कई लोग इस वीडियो को शेयर कर बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग कर रहे हैं।

और सच क्या है?

  • वायरल वीडियो का सच जानने के लिए वीडियो के की-फ्रेम को गूगल पर सर्च किया। सर्च रिजल्ट में हमें वीडियो से जुड़ी खबर NDTV न्यूज वेबसाइट पर मिली।
  • वेबसाइट के मुताबिक, ये वीडियो आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम गांव का है। वीडियो में दिख रहा शख्स कोरोना पॉजिटिव है। जो विजयवाड़ा से अपने गांव वापस आया तो गांव वालों ने उसे पॉजिटिव होने के कारण गांव में घुसने नहीं दिया। वीडियो में पानी पिलाते हुए दिख रही महिला उस शख्स की बेटी है।
  • ये खबर वेबसाइट पर 4 मई, 2021 को पब्लिश हुई थी।
  • पड़ताल के दौरान हमें NDTV न्यूज के यूट्यूब चैनल पर भी वायरल वीडियो से जुड़ी खबर मिली।
Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]