जहरीली शराब से मचा कोहराम, आंबेडकर नगर, आजमगढ़ और बदायूं में अब तक 24 लोगों की मौत। – News

जहरीली शराब से मचा कोहराम, आंबेडकर नगर, आजमगढ़ और बदायूं में अब तक 24 लोगों की मौत।

प्रशासन के लाख दावों के बावजूद उत्तर प्रदेश में जहरीली शराब का धंधा थम नहीं रहा है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान कई जिलों से घटनाएं सामने आने के बावजूद वह नहीं चेती। इसी निष्क्रियता के चलते आंबेडकर नगर, आजमगढ़ और बदायूं में कोहराम मचा हुआ है।

आंबेडकर नगर में जहां 16 लोगों की मौत हो गई, वहीं आजमगढ़ में 6 लोगों की जान चली गई। बदायूं में भी 2 युवकों की मौत हो गई। सोमवार शाम से शुरू मौतों का सिलसिला मंगलवार को भी नहीं थमा। अब भी कई लोग मृत्यु से संघर्ष कर रहे हैं।

आंबेडकरनगर की घटना को आबकारी विभाग ने गंभीरता से लिया है। इस मामले में आबकारी निरीक्षक सहित चार लोगों को निलंबित करके जांच की जा रही है। आजमगढ़ में भी जहरीली शराब पीने से छह लोगों की 48 घंटे के अंदर मौत हो गई। मृतकों में राजेश सोनी (मित्तूपुर), लालता (सौदमा), मुन्ना व पिंटू (राजेपुर), रिंकू निषाद (बलईपुर) व त्रिभुवन (चकिया गांव) शामिल हैं, जबकि मित्तूपुर गांव के रामशेर व उसरहा गांव (अंबेडकर नगर) के रवि निजी अस्पताल में भर्ती हैं। रवि ने पुष्टि की है कि उन लोगों ने एक दिन पूर्व शराब ठेकेदार मोती से लेकर शराब पी थी।

जैतपुर थाने (अंबेडकर नगर) के मखदूमपुर गांव के सेवानिवृत्त सूचना अधिकारी राम सुभग चौहान के घर पड़ोसी अमित चौहान, महेश चौहान, जैसराज चौहान और बगल गांव शिवपाल के सोनू चतुर्वेदी ने एक साथ बैठकर शराब पी थी।

शाम ढलते-ढलते अमित चौहान की मौत हो गई, जबकि अन्य की हालत बिगड़ गई। परिवारजन उन्हें लेकर नगपुर सीएचसी पहुंचे, यहां इलाज न हो पाने पर जलालपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। सोमवार को ही सेवानिवृत्त अधिकारी राम सुभग, महेश चौहान, सोनू चतुर्वेदी और मंगलवार को जैसराज चौहान की मौत हो गई।

महेश चौहान की आठ मई को ही शादी हुई थी। ग्रामीणों के मुताबिक मखदूमपुर के ही योगेंद्र चौहान, हरीराम और अजीत की भी शराब पीने से हालत बिगड़ गई। तीनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसी थाने के चौदहप्राश गांव के रवि और सोहगूपुर के लल्लन सिंह की भी शराब पीने से मौत हो गई।

कटका थाने के महंगीपुर गांव में भी जहरीली शराब ने कोहराम मचाया। यहां के श्याम सिंह की मंगलवार को मौत हो गई थी, जबकि इनके भाई राजेश सिंह और संजय सिंह की हालत गंभीर बनी हुई है।

उधर, मालीपुर थाने के बैरागल गांव के मखंचू मौर्या के घर से रविवार को अकबरपुर कोतवाली के बूढ़नपुर गांव में बरात गई थी। सोमवार सुबह बरात लौटी। थोड़ी देर बाद सुलतानपुर जनपद के थाना अखंडनगर के रहने वाले मखंचू के रिश्तेदार राम आशीष मौर्य की यहीं मौत हो गई।

चार घंटे के अंतराल में बैरागल के निमेष पाल, मालीपुर गांव के राम आशीष और रुकुनपुर के सुदीप मौर्य की भी मौत हो गई। ये सभी बरात में गए थे और वहां इन सभी के शराब पीने की बात कही जा रही है।

उधर, बदायूं के दहेमू गांव में अवैध शराब पीने से दो युवकों हरिभानू सिंह और विनीत तोमर की मौत हो गई। सुबह दोनों के स्वजन मौत की वजह शराब बताते रहे, मगर बाद में सबकुछ पुलिस के मनमुताबिक हो गया। पुलिस ने एक पीडि़त परिवार से लिखवा लिया कि बुखार से मौत हुई। दूसरे युवक के स्वजन से भी बात की।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]