बिहार में दर्दनाक हादसा, सप्तक्रांति सुपरफास्ट ट्रेन से कटकर तीन महिलाओं की मौत – पटना

बिहार में दर्दनाक हादसा, सप्तक्रांति सुपरफास्ट ट्रेन से कटकर तीन महिलाओं की मौत

आनंद विहार से मुजफ्फरपुर जा रही डाउन सप्तक्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन की चपेट में आने से सोमवार की सुबह एक महिला व दो युवतियों की मौत हो गई है। घटना नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर रेलखंड के कुमारबाग व चनपटिया स्टेशन के बीच महना रेलवे ढाला के समीप की है। महिला की उम्र लगभग 40 वर्ष एवं दोनों युवतियों की उम्र 20 वर्ष के करीब आंकी जा रही है।

चनपटिया थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि मृतकों की पहचान नहीं हो पायी है। महिला साड़ी पहनी थी, जबकि युवतियां गुलाबी व नीले रंग की सलवार समीज पहनी थी। तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया है। पुलिस तीनों की पहचान कराने की कोशिश में जुटी है। गेटमैन नितेश कुमार के अनुसार उन्हें सूचना मिली कि सप्तक्रांति एक्स. आ रही है।

वे ढाला बंद कर हरी झंडी लेकर ट्रेन के ड्राइवर को दिखाने के लिए निकले। सप्तक्रांति के आते ही एक महिला रेल ट्रैक पर आ गई। दोनों युवतियां उसे ट्रैक से हटाने की कोशिश करने लगी। इस दौरान वहां से गुजर रहे कुछ राहगीरों ने भी ट्रैक से हटने के लिए शोर मचाया। दोनों युवती मिलकर भी महिला को नहीं हटा पा रही थी। तभी तेज रफ्तार सप्तक्रांति ट्रेन से महिला कट गई। दोनों युवती ट्रेन से टकरा कर दूर जा गिरी। घटनास्थल पर ही तीनों की मौत हो गई।

घटना के बाद चनपटिया रेलवे स्टेशन पर अन्य ट्रेनें रुकी रहीं। रेलकर्मियों ने ट्रैक से शव को अलग हटाया तब ट्रेनों का परिचालन शुरू हो सका। वहां मौजूद लोगों का मानना है कि युवतियां व महिला एक ही परिवार की हो सकती है। कुछ लोगों का कहना था कि तीनों मां-बेटी भी हो सकती है। घरेलू कलह या कर्ज आदि के कारण महिला आत्महत्या करने के उद्देश्य से रेलवे लाइन पर पहुंची थी। उसे बचाने का प्रयास दोनों युवती कर रही थी।

आरपीएफ के सब इंस्पेक्टर अशोक यादव ने बताया कि घटनास्थल पर मौजूद लोग तीनों में से किसी को नहीं पहचान सके। पुलिस मृतकों की शिनाख्त में लगी है।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]