जनता का वोट जनता का पैसा और बंगाल के सभी 77 BJP विधायकों की सुरक्षा करेंगे केंद्रीय अर्धसैनिक बल, सड़को पर बेहाल जनता – पश्चिम बंगाल

जनता का वोट जनता का पैसा और बंगाल के सभी 77 BJP विधायकों की सुरक्षा करेंगे केंद्रीय अर्धसैनिक बल, सड़को पर बेहाल जनता

चुनाव से पहले सामाजिक माहौल को कथित रूप से बिगाड़ा जाता है फिर जाति धर्म के नाम पर एक दूसरे को जानीदुश्मन बना दिया जाता है। उसके बाद चुनाव जीतते ही विधायकों और सांसदों को जनता के पैसों से सुविधा और सुरक्षा दी जाती है जबकि आम जनता को छोड़ दिया जाता है भगवन भरोसे जिसको आत्मनिर्भर भारत कहा जाता है।

उदारहण के लिए पश्चिम बंगाल है जहाँ चुनाव से पहले लोगो को धर्म के नाम पर उत्तेजित किया गया पूरा चुनाव हिंसा में तब्दील रहा उसके बाद कार्यकताओं में हिंसा हुयी , उसके बाद पश्चिम बंगाल विधानसभा के लिए नवनिर्वाचित सभी 77 भाजपा विधायकों के समक्ष खतरे की आशंका को देखते हुए केंद्रीय अर्धसैनिक बल के जवान उन्हें सुरक्षा मुहैया कराएंगे।

जबकि कार्यकर्ता में आत्म निर्भर है और अभी तक कि हिंसा में मौत भी कार्यकताओं की ही हुयी है। लेकिन विधानसभा के भाजपा सदस्यों की सुरक्षा केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के सशस्त्र कमांडों करेंगे। जबकि जनता राम भरोसे है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि गृह मंत्रालय के आदेश के मुताबिक 77 में से 61 विधायकों को न्यूनतम ‘एक्स’ श्रेणी की सुरक्षा दी जाएगी और सीआईएसएफ के कमांडो तैनात किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि बाकी को या तो केंद्रीय सुरक्षा प्राप्त है अथवा उन्हें उच्च ‘वाई ‘ श्रेणी की सुरक्षा मुहैया कराई जाएगी। नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी को पहले ही सीआरपीएफ के जवानों द्वारा ‘जेड’ श्रेणी की सुरक्षा दी जा रही है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में 294 सदस्यीय विधानसभा के लिए हुए चुनाव में भाजपा 77 सीटों के साथ मुख्य विपक्षी पार्टी बनकर उभरी है। वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में तृणमूल कांग्रेस ने एक बार फिर सरकार बनाई है। अधिकारियों के मुताबिक ‘एक्स’ श्रेणी की सुरचा में तीन से चार कमांडों होते हैं जबकि ‘वाई’ श्रेणी में यह संख्या छह से सात कमांडों की हो जाती है।

वहीं, ‘जेड’ श्रेणी में व्यक्ति की सुरक्षा के लिए छह से नौ कमांडों तैनात रहते हैं. सीआईएसएफ और सीआरपीएफ के पास अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा करने की प्रशिक्षित इकाई है और दोनों बल करीब 140 हस्तियों को सुरक्षा मुहैया कराते हैं जिनमें केंद्रीय मंत्री, सांसद और नौकरशाह शामिल हैं।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]