जेएनयू की लाइब्रेरी में घुसे छात्र, गार्ड से हाथापाई, पुलिस ने महामारी ऐक्ट के तहत दर्ज किया केस – भारत

जेएनयू की लाइब्रेरी में घुसे छात्र, गार्ड से हाथापाई, पुलिस ने महामारी ऐक्ट के तहत दर्ज किया केस

दिल्ली पुलिस ने जेएनयू के छात्रों के एक समूह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। ये छात्र कथित तौर पर जबरन विश्वविद्यालय के केंद्रीय पुस्तकालय में घुसने और तोड़फोड़ करने के आरोपी हैं। इन पर यह भी आरोप है कि इन लोगों ने रोके जाने पर परिसर में सुरक्षा गार्डों के साथ मारपीट की। केंद्रीय पुस्तकालय अभी कोरोना महामारी के कारण बंद चल रहा है। आरोपी छात्र उसको जबरन खोलवाना चाहते थे।

पुलिस के मुताबिक मंगलवार की सुबह करीब 10 बजकर 40 मिनट पर 35-40 छात्रों का एक समूह पुस्तकालय के बाहर इकट्ठा हुआ। इन लोगों ने गार्ड से पुस्तकालय का गेट खोलने के लिए कहा। गार्ड ने ऐसा करने से इनकार कर दिया। इस पर छात्र भड़क उठे और वहां पर सेंध लगाने की कोशिश करने लगे। प्राथमिकी के अनुसार छात्रों को रोकने और तितर-बितर करने के लिए गार्ड ने क्विक रिस्पांस टीम को बुला लिया।

एफआईआर के मुताबिक “छात्रों ने सुरक्षा कर्मियों के साथ मारपीट की और पुस्तकालय के गेट को लाठियों से पीटना शुरू कर दिया। गेट का शीशा क्षतिग्रस्त कर दिया। सुरक्षा कर्मियों ने हमले का विरोध किया और छात्रों को तीनों प्रवेश द्वारों पर रोक दिया। इस बीच छात्र एक छोटा सा गेट पा गए। उसके शीशे को तोड़कर वे पुस्तकालय में घुस गए। हालांकि बाद में सुरक्षा कर्मियों ने उनको वहां से हटा दिया।”

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]