श्रीराम के उत्तर प्रदेश में न्याय के लिए भटक रहे श्रीराम, जाने मामला – गोंडा

श्रीराम के उत्तर प्रदेश में न्याय के लिए भटक रहे श्रीराम, जाने मामला

मामला उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले का है। यहां श्री राम तिवारी नाम के शख्स अपने जिंदा होने के सबूत लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगा रहा है। घटना गोंडा के तरबगंज तहसील के विशुनपुर बनियान पुरवा तरबगंज का है.

दरअलस श्री राम को परिवार रजिस्टर में मृत घोषित कर दिया गया जिसके आधार पर उनकी जमीन दूसरे के नाम पर वरासत कर दी गयी है। अधिकारियों के इस कारनामे से हैरान परेशान श्री राम तिवारी पिछले 5 साल से अधिकारियों के चौखट पर दस्तक दे रहे हैं।पर कोई सुनवाई नहीं हो रहे है।

श्री राम की मानें तो उनके परिवार रजिस्टर में उन्हें मृत घोषित कर उनका 46 बिस्वा खेत परिवार रजिस्टर में फर्जी नाम चढ़ाकर ऐसे व्यक्ति को दे दिया गया जो उनके परिवार का नहीं है।

श्री राम चाहते है कि उन्हें कागज में जिंदा कर दिया जाए और उनकी खतौनी दुरुस्त कर दी जाए। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने इस संबंध में बताया कि प्रकरण की जांच की जा रही है।

उन्हों कहा कि एसडीएम के नेतृत्व में दो सदस्यीय कमेटी बनाकर जांच सौंपी दी गयी है। जांच रिपोर्ट आते ही दोषियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी और गलतियों को दुरुस्त कराया जाएगा।

तीन बच्चों के पिता और तरबगंज तहसील के बिशुनपुर बनियान पुरवा निवासी श्री राम की जमीन किसी राम गरीब के नाम कर दी गई है. जो ना ही उनके परिवार का है और ना ही उसे वह जानते हैं।

उनका कहना है कि लेखपाल, सेक्रेटरी व प्रधान के सहयोग से यह जालसाजी की गई है। श्री राम कहते हैं कि, ”मैं पिछले 5 साल से अधिकारियों और कर्मचारियों के चौखट पर नाक रगड़ रहा हूं लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]