कोरोना: बिहार में गंगा किनारे 40 से अधिक लाशें मिलने पर बवाल। – News

कोरोना: बिहार में गंगा किनारे 40 से अधिक लाशें मिलने पर बवाल।

बिहार के बक्सर ज़िले के चौसा प्रखंड के चौसा श्मशान घाट पर गंगा में कम से कम 40 लाशें तैरती हुई मिली हैं। चौसा के प्रखंड विकास पदाधिकारी अशोक कुमार ने इसकी की पुष्टि करते हुए कहा,” 30 से 40 की संख्या में लाशें गंगा में मिली हैं। इस बात की संभावना है कि ये लाशें उत्तर प्रदेश से बहकर आई हैं। मैंने घाट पर मौजूद रहने वाले लोगों से बात की है, जिन्होंने बताया कि लाशें यहाँ की नहीं है।”

स्थानीय लोगो का के मुताबिक, “अभी गंगा जी के पानी में धार नहीं है । पुरवैया हवा चल रही है, ये पछिया का तो समय नहीं है । ऐसे में लाश बहकर कैसे आ सकती है?”

वो आगे बताते हैं, “नौ मई को सुबह पहली बार मुझे पता चला, मैंने वहाँ 100 क़रीब लाशें देखीं। जो 10 मई को बहुत कम हो गईं। दरअसल बक्सर के चरित्रवन घाट का पौराणिक महत्व है और अभी वहाँ कोरोना के चलते लाशों को जलाने की जगह नहीं मिल रही है। इसलिए लोग लाशों को आठ किलोमीटर दूर चौसा श्मशान घाट ला रहे हैं।”

वहीं घाट पर मौजूद रहने वाले पंडित दीन दयाल पांडे ने बताया, “अमूमन इस घाट पर दो से तीन लाशें ही रोज़ाना आती थीं लेकिन इधर बीते 15 दिन से यहाँ तकरीबन 20 लाशें आती हैं । ये जो शव गंगा जी में तैर रहे हैं, ये संक्रमित लोगों के शव हैं। यहाँ गंगा जी में बहाने से हम लोग मना करते हैं, लेकिन लोग मानते नहीं हैं । प्रशासन ने यहाँ चौकीदार लगाया है, लेकिन उनकी कोई बात नहीं सुनता।”

दाह संस्कार के लिए 15 से 20 हजार की जरूरत गरीब आदमी कहां से लाए ?

गौरतलब है रोजाना कोरोना के बढ़ते मामले भले ही सरकार अपने खाते में कम दिखाती है लेकिन मारने वालों के आंकड़े शमशान में बढ़ते जा रहे है।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]