MP: उच्च न्यायालय में स्कूल फीस और ऑनलाइन कक्षाओं के मुद्दे पर हुई सुनवाई, सरकार ने कहा- निजी स्कूल सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकते हैं – भोपाल

MP: उच्च न्यायालय में स्कूल फीस और ऑनलाइन कक्षाओं के मुद्दे पर हुई सुनवाई, सरकार ने कहा- निजी स्कूल सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकते हैं

मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के समक्ष राज्य के स्कूलों में फीस और ऑनलाइन कक्षाओं के मुद्दे को लेकर दायर याचिकाओं पर सुनवाई की गई।

मुख्य न्यायाधीश एके मित्तल और न्यायाधीश वी के शुक्ला की युगलपीठ के समक्ष हुई सुनवायी के दौरान राज्य सरकार की तरफ से बताया गया कि कोरोना काल में निजी स्कूल सिर्फ ट्यूशन फीस ले सकते हैं। इसके अलावा कक्षा पांचवी तक ऑनलाइन क्लास प्रतिबंधित कर दी गयी हैं।

युगलपीठ ने जवाब को रिकॉर्ड में लेते हुए सभी याचिकाओं से संबंधित अनावेदकों को जवाब पेश करने के निर्देश दिए हैं। मामले की अगली सुनवायी 10 अगस्त को की जाएगी।

इस मामले में उच्च न्यायालय की जबलपुर की एकल पीठ और इंदौर की एकल पीठ के समक्ष भी याचिकाएं पेश की गयी हैं। अब इन सभी याचिकाओं को एकसाथ मुख्य पीठ सुन रही है।

नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच जबलपुर की ओर से दायर याचिका में भी कोरोना काल में स्कूलों द्वारा ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने का मामला उठाया गया है। इसमें कहा गया है कि ऑनलाइन कक्षाएं विद्यार्थियों की आंखों के लिए खतरनाक हैं।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]