लखनऊ : बैंक ने नीलाम कर दी नगर निगम की जमीन – लखनऊ

लखनऊ : बैंक ने नीलाम कर दी नगर निगम की जमीन

सरोजनीनगर में दस करोड़ कीमत की जमीन को बेचने का घपला सामने आया है। बीती दो मार्च को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने जिस जमीन को लोन अदा न करने पर दस करोड़ में नीलाम किया था, वह नगर निगम की बताई जा रही है इस मामले में भू-माफिया, सरकारी महकमे और बैंक अधिकारियों का गठजोड़ सामने आया है।

एसडीएम की रिपोर्ट के अनुसार नगर निगम की जमीन पर बैंक ने पहले लोन दिया और फिर लोन न अदा करने पर उसे बंधक कर नीलाम कर दिया। लोन भी दस करोड़ था।

नीलामी के बाद जमीन पर कब्जे को लेकर हुए विवाद के बाद मामला सामने आ सका। करीब चार बीघा जमीन के इस घपले में बैंक अधिकारी भी जांच के घेरे में आ गए हैं। एसडीएम ने अपनी रिपोर्ट जिलाधिकारी समेत अपर नगर आयुक्त को भेजी है।

एसडीएम ने अपनी रिपोर्ट में यहां तक आरोप लगाया है कि बैंक के अधिकारियों ने मिलीभगत करके जमीन पर लोन दिया था और फिर लोन अदा न होने पर जमीन की नीलामी कर दी।

सरोजनीनगर तहसील के लेखपाल सुशील कुमार शुक्ला और तहसीलदार सरोजनीनगर की रिपोर्ट का हवाला देते हुए एसडीएम ने डीएम को पत्र भेजा। पत्र में कहा गया कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने खातेदार से सांठगांठ और दुरभि संधि कर अवैधानिक तरह से लोन दिया गया था।

संगठित भूमि में से किस अंश भाग को बंधक (मार्गेज) किया गया, यह स्पष्ट नहीं है और ना यह जिस विक्रय विलेख पर लोन दिया गया है, उस पर बेची (नीलाम) गई भूमि की चौहद्दी भी अंकित नहीं है।

रिपोर्ट के अनुसार जमीन पर कार्वों कंपनी का संचालन हो रहा है और उसका किराया भी बैंक वसूल रहा है, जबकि जमीन नगर निगम की है। भूमि पर बैंक ने लोन देने से पहले स्थानीय सर्वे और मार्गेज की गई संपत्ति का मानचित्र भी नहीं दिया गया था।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]