अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ J&K के लोगों को आवाज उठाने का पूरा हक: सैफुद्दीन सोज – भारत

अनुच्छेद 370 हटाने के खिलाफ J&K के लोगों को आवाज उठाने का पूरा हक: सैफुद्दीन सोज

श्रीनगर. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सैफुद्दीन सोज ने मंगलवार को कहा कि अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधानों को निष्प्रभावी बनाया जाना ”गलत” एवं ”असंवैधानिक” था और जम्मू कश्मीर के लोगों को इसके विरुद्ध आवाज उठाने का पूरा हक है।

वह उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू के बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे। पिछले सप्ताह नायडू ने कहा था कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और देश अपनी समस्याओं का हल करने में सक्षम है।

अनुच्छेद 370 (Article 370) को अगस्त 2019 में निष्प्रभावी बनाये जाने के बाद अपनी पहली यात्रा पर जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) गये उपराष्ट्रपति ने अन्य देशों को भारत को बिन मांगी सलाह देने के बजाय उनकी अपनी घरेलू समस्याओं तक सीमित करने को कहा था.

सोज ने एक बयान में कहा, ”मैं समझता हूं कि उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कश्मीर पर कुछ कहने के हमारे अधिकार से इत्तेफाक रखेंगे. यदि वह अधिकार प्रदान किया गया है तो हम कहना चाहेंगे कि संविधान के अनुच्छेद 370 (Article 370) को एकतरफा ढंग से निष्प्रभावी बनाना भारत सरकार द्वारा उठाया गया गलत कदम था. भारत सरकार का वह कदम असंवैधानिक था.”

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जब पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) राज्य एवं भारतीय संघ के बीच संवैधानिक संबंधों की रूपरेखा तय की जा रही थी तब अनुच्छेद 370 (Article 370) भारतीय संविधान में शामिल किया गया था।

उन्होंने कहा, “सामान्य सी बात है कि भारत सरकार को अनुच्छेद 370 (Article 370) को निष्प्रभावी बनाने का अधिकार नहीं है.” सोज ने कहा कि जम्मू कश्मीर के लोगों को अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी बनाने के विरुद्ध आवाज उठाने का पूरा हक है।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]