India-China border dispute: चीन ने मॉस्को में भारत से बातचीत की पेशकश की – विश्व

India-China border dispute: चीन ने मॉस्को में भारत से बातचीत की पेशकश की

भारत और चीन के बीच फिर से तनाव गहराता दिख रहा है। हाल ही में जम्मू कश्मीर के लद्दाख स्थित पैंगोंग त्सो झील के पास हुई दोनों सेनाओं के बीच झड़प ने दोनों देशों के बीच एक बार फिर तनाव को चरम पर पहुंचा दिया है। दोनों देशों के बीच खराब होते रिश्ते को देख चीन के रक्षा मंत्री वे फेंग ने भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने की इच्छा जाहिर की है।।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, दोनों नेता इस समय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक के लिए मॉस्को में हैं और चीनी रक्षा मंत्री ने शुक्रवार को बैठक करने की पेशकश की है।

चीन की ओर से भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ से बैठक करने का अनुरोध ऐसे समय में आया है, जब भारतीय और चीनी सैनिक पूर्वी-लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर सैन्य गतिरोध में लगे हैं।

अख़बार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि गुरुवार रात को भारतीय रक्षा मंत्रालय ने इस बैठक को मंज़ूरी दे दी है क्योंकि भारत को उम्मीद है कि बातचीत के ज़रिये ही वास्तविक नियंत्रण रेखा पर बनी तनावपूर्ण स्थिति को सामान्य किया जा सकता है।

मॉस्को में मौजूद भारतीय और चीनी दूतावास ने भी इस बात की पुष्टि की है कि दोनों देश शुक्रवार को अपने रक्षा मंत्रियों की एक औपचारिक बैठक के लिए आपसी संपर्क में हैं।

इससे पहले भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के सवाल पर कहा था कि दोनों देशों के बीच तनाव बातचीत से ही हल हो सकता है और उन्हें इस बात पर पूरा विश्वास है।

अख़बार ने अपनी रिपोर्ट में लिखा है कि एस जयशंकर जिन्होंने गुरुवार को जी-20 देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लिया, वे शुक्रवार को ब्रिक्स की एक बैठक में भी शिरकत करने वाले हैं।

इसके बाद जयशंकर मॉस्को की यात्रा पर होंगे जहाँ 9 सितंबर को उन्हें शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की बैठक में शामिल होना है. बताया गया है कि इन दोनों ही बैठकों में चीन के विदेश मंत्री वांग यी भी मौजूद होंगे।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]