गोरखपुर व बस्ती मंडल के सात जिलों में करीब 46 हजार ग्रामीण बुखार से पीड़ित साथ ही 764 कोरोना से संक्रमित मिले – गोरखपुर

गोरखपुर व बस्ती मंडल के सात जिलों में करीब 46 हजार ग्रामीण बुखार से पीड़ित साथ ही 764 कोरोना से संक्रमित मिले

जिले के ग्रामीण इलाकों में बुखार का प्रकोप तेज हो गया है। तेज बुखार लोगों की जान ले रहा है। बीते पांच दिनों के अभियान में गोरखपुर व बस्ती मंडल के सात जिलों में करीब 46 हजार ग्रामीण बुखार से पीड़ित मिले।

इनमें एक तिहाई मरीज सिर्फ गोरखपुर में मिले हैं। बुखार से जूझ रहे इन मरीजों में 764 में संक्रमण की तस्दीक हुई है। यह सर्वे पांच मई से लेकर नौ मई तक चला था।

सूबे में पंचायत चुनाव खत्म हो गए हैं। इन चुनावों में कोविड प्रोटोकाल टूट गए। कोविड नियमों की अनदेखी ग्रामीण अंचल में जानलेवा हो सकती है। गोरखपुर और बस्ती मंडल के ग्रामीण इलाकों में कोरोना संक्रमण फैल सकता है।

इसी आशंका को देखते हुए शासन ने गांव में डोर टू डोर सर्वे का पांच दिन का अभियान चलाया था। इसमें बुखार से तप रहे ग्रामीणों की तलाश की गई। शासन के अधिकारियों की माने तो यह अभियान बेहद सफल रहा। बीते सोमवार को यह अभियान समाप्त हो गया।

इस दौरान दोनों मंडल के सात जिलों में करीब 28 लाख घरों तक स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पहुंचने का लक्ष्य रखा था। जिसमें साढ़े 26 लाख घरों तक टीम पहुंच भी गई। इस अभियान में 45 हजार 449 लोगों में सर्दी, जुकाम, बुखार, शरीर में दर्द, स्वाद व सुगंध का गायब होना जैसे लक्षण मिले।

इन लक्षणों के आधार पर ग्रामीणों का इलाज शुरू किया गया। मौके पर बीमार मिले लोगों के साथ ही उनके परिजनों को दवाएं दी गई। इस दौरान जांच टीम को ग्रामीणों ने बताया कि गांव में कई लोगों की तेज बुखार से मौत हो गई है।

करीब 800 लोग मिले संक्रमित
इस अभियान में जांच टीम ने मौके पर एंटीजन किट से जांच भी की। इनमें दोनों मंडलों में कुल 764 लोग संक्रमित मिले। हालांकि संक्रमितों की इस सूची में सिद्धार्थनगर शामिल नहीं है। वहां अभी आंकड़ों को अंतिम रूप नहीं दिया जा सका है सबसे ज्यादा सर्वे गोरखपुर में हुआ।

यहां टीम ने पांच लाख 60 हजार 831 घरों का सर्वे किया। इसमें 15 हजार 610 ग्रामीणों में बुखार व दूसरी बीमारियां मिली। इस सर्वे के दौरान सबसे ज्यादा संक्रमण दर महाराजगंज में मिला। महाराजगंज में 428398 घरों के सर्वे में 6383 ग्रामीण बुखार से पीड़ित मिले।

इनकी जांच में 235 लोग संक्रमित मिले हैं। जबकि गोरखपुर में संक्रमितों की संख्या 224 रही। कुशीनगर और बस्ती में 73-73 संक्रमित मिले। संत कबीर नगर में 130 और देवरिया में 29 संक्रमित मिले।

RRT के साथ आशा कार्यकत्री व एएनएम रही शामिल
जिले में जांच के नोडल अधिकारी एडिशनल सीएमओ डॉ. एके सिंह ने बताया कि यह जटिन सर्वे रहा। इसमें जिले में 23 रैपिड रिस्पांस टीम(आरआरटी) के साथ संबंधित सीएचसी-पीएचसी की टीम लगाई जाती।

यह मौके पर जांच कर दवाएं देती। घर-घर सर्वे के लिए आशा कार्यकत्री और एएनएम को जिम्मेदारी दी गई थी। घर में हर सदस्य की स्क्रीनिंग की गई।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]