रतलाम : बेड न मिलने पर निजी अस्पताल ले जाते बाइक पर ही उखड़ गईं सांसें चारो तरफ नरसंहार जिम्मेदार कौन ? – भारत

रतलाम : बेड न मिलने पर निजी अस्पताल ले जाते बाइक पर ही उखड़ गईं सांसें चारो तरफ नरसंहार जिम्मेदार कौन ?

रतलाम मेडिकल कॉलेज में बेड के लिए दो घंटे तक इंतजार करने के बाद वकील सुरेश डागर की तबीयत खराब होने पर उन्हें उनके भाई अनिल और मां बाइक पर मेडिकल कॉलेज लेकर गए जहां अस्पताल ले जाते समय मरीज ने बाइक पर ही दम तोड़ दिया।

अनिल उन्हें आयुष ग्राम प्राइवेट अस्पताल लेकर गए। वहां भी उन्हें निराशा ही हाथ लगी। इसके बाद दूसरे निजी अस्पताल ले जाते समय राम मंदिर तिराहे पर बीमार वकील की बाइक पर ही मौत हो गई।

कोरोना संदिग्ध होने की वजह से बड़ी देर तक सड़क पर परेशान हो रहे परिवार की मदद के लिए कोई भी आगे नहीं आया। फिर मौके पर ड्यूटी कर रहे हैं पुलिसकर्मियों की मदद से शव को जिला अस्पताल पहुंचाया गया है।

वकील सुरेश डांगर की तबीयत पिछले कुछ दिनों से खराब चल रही थी। वह घर पर ही उपचार ले रहे थे। जहां मंगलवार को अचानक तबीयत बिगड़ने पर एंबुलेंस उपलब्ध नहीं होने से मां और भाई बाइक पर उन्हें मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे थे।

यहां जगह नहीं मिलने पर प्राइवेट अस्पताल ले जाते समय उन्होंने बाइक पर ही बीच सड़क दम तोड़ दिया। गौरतलब है कि रतलाम मेडिकल कॉलेज और सभी निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन वाले बेड बीते एक हफ्ते से भरे हुए हैं।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]