हरदोई : बैंकों के निजीकरण के चलते विरोध प्रदर्शन – हरदोई

हरदोई : बैंकों के निजीकरण के चलते विरोध प्रदर्शन

यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस के बैनरतले मंगलवार को बैंककर्मियों ने बैंकों के निजीकरण के विरोध में बैंक ऑफ इंडिया रेलवेगंज शाखा के बाहर धरना दिया।

भोजनावकाश के दौरान शहर की सभी बैंकों के अधिकारी व कर्मचारी एकत्र हुए और उन्होंने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

यूनियंस के स्थानीय संयोजक आरके पांडेय ने कहा कि केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में बैंकिग सुधारों व दो पीएसयू बैंकों के निजीकरण की घोषणा की है। इससे बैंककर्मियों में आक्रोश है।

उन्होंने कहा कि पीएसयू बैंकों में जमा 150 लाख करोड़ जनता के जमा धन पर कारपोरेट की नजर है। अभी तक यह धन समाज के कमजोर वर्ग, किसानों, खुदरा व्यापारियों को ऋण योजनाओं के काम आता है। निजीकरण के बाद यह धन कारपोरेट के कब्जे में होगा और उनका हित साधेगा।

बैंकों का निजीकरण देश की तबाही का कारण बनेगा। बैंककर्मी नेता क्षितिज पाठक ने कहा कि बैंककर्मियों को निजीकरण के खिलाफ आर पार की लड़ाई के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने 15 व 16 मार्च को दो दिवसीय राष्ट्रव्यापी हड़ताल को सफल बनाने की अपील की।

वेद प्रकाश पांडेय, अनूप सिंह, अजय मेहरोत्रा, वरुण सिंह, वर्षा मेहरोत्रा, अनामिका सिंह, दीपक बाजपेई, नंद किशोर पांडेय, अनुज सिंह, अनादि ब्रम्ह, सोनी कुमारी, स्वाति गुप्ता, राजेश कुमार शामिल रहे।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]