हरदोई : कोरोना महामारी के बीच सरकार की एक और लापरवाही , मंडी में जलभराव , करीब तीन हजार बोरा अनाज भीगा – हरदोई

हरदोई : कोरोना महामारी के बीच सरकार की एक और लापरवाही , मंडी में जलभराव , करीब तीन हजार बोरा अनाज भीगा

कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर लगाए गए लॉकडाउन के दौरान कृषि से जुड़े कार्यों को छूट दी गई हैं। शुक्रवार की सुबह बारिश के चलते नवीन गल्ला मंडी हरदोई की साफ-सफाई व्यवस्था की पोल खुल गई।

बारिश के चलते खुले में लगे गेहूं व धान से भरे करीब तीन हजार बोरे भीग गए, इससे किसानों के अलावा व्यापारियों को काफी नुकसान हुआ। वहीं गल्ला मंडी में लगे खरीद केंद्रों के सामने जलभराव होने से गेहूं की तौल प्रभावित रही।

नवीन गल्ला मंडी में साफ-सफाई के नाम पर लाखों रुपये खर्च किए जा रहे हैं। इसके बावजूद जलनिकासी की व्यवस्था दुरुस्त नहीं हो पाई है। नालियां चोक है, जिससे हल्की बारिश में जलभराव हो जाता है।

व्यापारियों का कहना है कि गुरुवार को गेहूं, धान, सरसों की आमद आई थी। बिक्री के बाद उठान के लिए आढ़तों पर गेहूं व धान से करीब तीन हजार भरे बोरे रखे थे। वहीं किसानों की भी आमद आढ़तों के बाहर पड़ी थी।

बारिश की कोई उम्मीद नहीं थी, जिसके चलते खुले में अनाज रखा था। सुबह अचानक बारिश होने से अनाज भीग गया। वहीं मंडी सचिव बबलू लाल ने बताया कि बारिश से हुए नुकसान की उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

बताया कि मेन नाले से मंडी का नाला नीचे है, जिससे जलनिकासी की समस्या बनी हुई है। इसका जल्द समाधान किया जाएगा।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]