मानवता को शर्मसार करता गुजरात का अस्पताल, बिल न भर पाने पर कोरोना से मृत शख्स का शव देने से किया इनकार, कार रख ली गिरवी – गुजरात

मानवता को शर्मसार करता गुजरात का अस्पताल, बिल न भर पाने पर कोरोना से मृत शख्स का शव देने से किया इनकार, कार रख ली गिरवी

देश के जिन राज्यों में कोरोना से हाहाकार मचा हुआ है उनमें से एक गुजरात भी है राज्य के कई अस्पताल कोविड मरीजों और शवों से भरे हुए हैं।

इस गंभीर स्थिति के बीच भी वलसाड के एक अस्पताल की निर्ममता का मामला सामने आया है, जहां बिल न भर पाने की वजह से परिजनों को कोविड मरीज का शव नहीं दिया गया।

मृतक के परिवार का आरोप है कि अस्पताल में काम करने वाले डॉक्टरों ने शव देने से मना किया। अस्पताल ने शव देने से पहले पूरा बिल भरने को कहा। इतना ही नहीं अस्पताल ने शव देने के लिए परिवारजनों की गाड़ी तक को गिरवी रख लिया।

पीड़ित को कोरोना के लक्षण दिखने के बाद वापी के 21 सेंचुरी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मरीज का यहां इलाज भी हुआ लेकिन मंगलवार को उन्होंने दम तोड़ दिया।

खबर के मुताबिक, मृतक के परिवार के पास सिर्फ गाड़ी थी और अस्पताल प्रशासन ने उसे भी गिरवी रखकर शव सौंपा। परिवार ने अस्पताल के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई और जब पुलिस अस्पताल पहुंची तो परिवार वालों को गाड़ी वापस दे दी गई।

अस्पताल के मैनेजिंग डायरेक्टर अक्षय नदकरणी के मुताबिक, कुछ दिन पहले भी अस्पताल में ऐसा ही मामला सामने आया था जब एक कोविड मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

अस्पताल ने गारंटी के तौर पर परिजनों की गाड़ी रख ली थी और फिर बिल का भुगतान होने पर गाड़ी लौटा दी थी।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]