गुजरात : 45 वर्ष से कम के 900 छात्रों अध्यापकों को लगा दी कोरोना वैक्सीन , चुप्पी नहीं तोड़ रहा प्रशासन – गुजरात

गुजरात : 45 वर्ष से कम के 900 छात्रों अध्यापकों को लगा दी कोरोना वैक्सीन , चुप्पी नहीं तोड़ रहा प्रशासन

गुजरात में आईआईटी गांधीनगर में 900 छात्रों, फैकल्टी मेंबर्स और अन्य स्टाफ को कोरोना वैक्सीन दिए जाने का मामला सामने आया है, जिनमें से ज्यादातर की उम्र 45 साल से कम है।

इसके चलते विवाद खड़ा हो गया है कि आखिर तय उम्र से कम के होने के बाद भी 900 छात्रों का टीकाकरण क्यों किया गया। अब तक इस संबंध में आईआईटी गांधीनगर का कोई बयान नहीं आया है। आईआईटी के जनरल डायरेक्टर प्रोफेसर सुधीर कुमार जैन और प्रवक्ता से संपर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

हालांकि इस संबंध में गांधीनगर प्रशासन और नगर निगम के अधिकारियों की ओर से भी कोई जवाब नहीं मिला है। गुजरात की प्रमुख स्वास्थ्य सचिव जयंति रवि ने भी इस पर कोई बयान नहीं दिया है।

छात्र बोला, पता नहीं था कि हमें वैक्सीन लगनी चाहिए या नहीं
रिपोर्ट्स के मुताबिक आईआईटी कैंपस में बने वैक्सीनेशन सेंटर में टीचर्स, स्टूडेंट्स और अन्य लोगों समेत 900 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है। इनमें ऐसे छात्र भी शामिल हैं, जो कैंपस में नहीं हैं।

इस संबंध में भले ही आईआईटी और सरकार की ओर से कोई जवाब नहीं मिला है, लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज भी नहीं किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक 30 मार्च से 2 अप्रैल के दौरान आईआईटी में कोरोना वैक्सीनेशन किया गया था।

नाम उजागर न करने की शर्त पर एक स्टूडेंट ने कहा, ‘मुझे यह जानकारी नहीं थी कि मैं कोरोना वैक्सीन लेने के लिए पात्र हूं या नहीं। हम सभी को ईमेल आया था कि 30 मार्च से 2 अप्रैल के दौरान आपका वैक्सीनेशन होना है। मैंने 31 मार्च को वैक्सीन लगवाई थी। उसके बाद कुछ थकान सी महसूस हो रही थी, लेकिन अब सब ठीक है।’

फैकल्टी मेंबर्स ने भी बताई वैक्सीन लगने की बात, चुप्पी नहीं तोड़ रहा प्रशासन
2 अप्रैल को वैक्सीन की डोज लेने वाले एक स्टूडेंट ने कहा, ‘हमें यह भी बताया गया था कि कोविशील्ड वैक्सीन की डोज दी जाएगी।’ आईआईटी के कुछ फैकल्टी मेंबर्स ने भी स्पष्ट किया है कि उन्हें और छात्रों को मार्च के आखिरी सप्ताह में कोरोना वैक्सीन दी गई थी।

कहा जा रहा है कि गांधीनगर नगर निगम की ओर से आईआईटी को वैक्सीन दी गई थीं। हालांकि इस बाबत संपर्क करने पर गांधीनगर नगर निगम के अफसरों ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]