बाँदा : जिनका खुद नही विकास वो कैसे करेंगे समाज का विकास – बाँदा

बाँदा : जिनका खुद नही विकास वो कैसे करेंगे समाज का विकास

हमारे देश के संविधान की यह अजीब बिडम्बना है कि यहाँ पर समाज को सुधारने और उसका विकास करने की बागडोर उन लोगों के हाथ में है जिनका खुद का ही बौद्धिक विकास नही हुआ है।चुनाव आते ही ऐसे ऐसे लोग चुनावी मैदान में अपना दांव आजमाने निकल पड़ते हैं जिन्हें अपने क्षेत्र के विषय में भी कोई जानकारी नहीं होती है।आज हम आपको नामांकन पत्र दाखिल करने गए कुछ ऐसे प्रत्याशियों से मिलाएंगे जिन्हें यह भी नही पता कि पंचायत के तहत कौन कौन सी योजनाएं चलाई जाती हैं इतना ही नहीं उन्हें तो यहां तक नही पता है कि हमारे पंचायत क्षेत्र में आबादी कितनी है और वोटरों की संख्या कितनी है।तो चलिए अब मिलते हैं कुछ ऐसे ही समाज को सुधारने का बीड़ा उठाने वाले प्रत्याशियों से।

कहा जाता है कि प्रारंभिक राजनीति की शुरुआत गांव से ही होती है। लेकिन सबसे बड़ी बात यह है कि गांव के विकास ,सुरक्षा, और सरकारी योजनाएं का कार्यभार ऐसे कांधों में होता है जो पूरी तरह से अनपढ़ व अंगूठा टेक होते हैं उसके बाद भी वह बखूबी गांव की सरकार को चलाता रहता है। असल में सारा कसूर चुनाव में अपन दांव आजमाने वाले प्रत्याशियों का नही है कहीं न कहीं दोष उनका भी है जो अपने लिए ऐसा मुखिया चुनतें हैं जो अंगूठा छाप है। केवल ऐसे ही लोगों की वजह से सरकार की तमाम विकास योजनाएं आते हुए भी लोगों तक नहीं पहुच पाती है।

तो चलिए मिलते हैं कुछ ऐसे ही पढ़े लिखे प्रत्याशियों से ।सब से पहले हम आपको मिलाते हैं बाँदा जनपद के बबेरू ग्रामीण तृतीय से पंचायत चुनाव में अपना दमखम दिखाने वाले प्रत्यासी केशव प्रसाद प्रजापति से यह जनाब वर्तमान प्रधान भी हैं। सुनिए की ये महोदय अपने क्षेत्र के विषय में क्या जानकारी दे रहे हैं।

ये महासय बता रहे हैं कि मेरे क्षेत्र की आबादी 35 हजार है और कुल मददाताओं की आबादी 65 हजार है। ऐसे ही तमाम प्रत्याशियों से हमने बात की तो सभी के जवाब अतरंगी तरीके के ही सुनने को मिले । कुछ प्रत्याशी तो ऐसे मिले जो अपने आपको बहुत ही पढालिखा बता रहे थे लेकिन जब उनसे जिले के जिला अधिकारी का नाम पूछा गया तो उन्हें यह भी नही पता था। अब सोचिए ऐसे प्रत्याशी जिनका खुद का विकास नही है वो समाज का विकास कैसे करेंगे यह देखने वाली बात होगी।

इल्यास खान
बाँदा

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]