लोहिया अस्पताल में 1 रुपये के पर्चे पर 4 हजार सस्ती ब्रांडेड दवाएं , HRF सिस्टम लागू – लखनऊ

लोहिया अस्पताल में 1 रुपये के पर्चे पर 4 हजार सस्ती ब्रांडेड दवाएं , HRF सिस्टम लागू

लोहिया अस्पताल के मरीज अब सस्ती दर पर ब्रांडेड दवा खरीद सकेंगे एक रुपये के पर्चे पर वह संस्थान की फार्मेसी की दवा ले सकेंगे।

यहां उन्हें बाजार दर से 75 फीसद तक कम रेट पर मेडिसिन-सर्जिकल सामान मिलेगा।

लोहिया अस्पताल व लोहिया संस्थान का विलय हो गया है। अस्पताल में एक रुपये के पर्चे पर दवा-इलाज मुफ्त है।

मरीजों के लिए मेडिकल कॉर्पोरेशन द्वारा 243 किस्म की दवाएं मुहैया कराई जाती हैं, बावजूद इसके डॉक्टरों की लिखी कई दवाएं अस्पताल के काउंटर पर उपलब्ध नहीं होती थीं।

ऐसे में मरीजों को मेडिकल स्टोर से महंगी दर पर दवाएं खरीदनी पड़ रही थीं। कारण, अस्पताल का पर्चा संस्थान की फार्मेसी में मान्य नहीं था। विलय के साल भर बीतने पर भी मरीजों को दवा के लिए भटकना पड़ रहा था।

10 अक्टूबर को दैनिक जागरण ने मरीजों की दवा समस्या को उजागर किया। शासन से लेकर जिला प्रशासन तक सक्रिय हुआ।

लिहाजा, अब अस्पताल का भी मरीज ब्रांडेड दवाएं मेडिकल स्टोर के बजाय लोहिया संस्थान की फार्मेसी से खरीद सकेगा।

यहां उनका एक रुपये वाला पर्चा मान्य होगा। संस्थान में हॉस्पिटल रिवॉल्विंग फंड (एचआरएफ) के तहत संचालित फार्मेसी में चार हजार ब्रांडेड दवाएं व सर्जिकल सामान उपलब्ध हैं। मेडिकल कॉर्पोरेशन की मुफ्त दवाओं का वितरण भी जारी रहेगा।

जाने किन विभागों के हजारों मरीजों को मिली राहत
अस्पताल में करीब 11 विभागों की ओपीडी चलती है। वहीं संस्थान में 12 सुपर स्पेशियलिटी विभाग की ओपीडी चलती है।

अस्पताल में दिखाने लखनऊ के लिए मरीज का एक रुपये का पंजीकरण होता है, वहीं संस्थान में दिखाने के लिए सौ रुपये का पंजीकरण कराना होता है।

अब एक रुपये के पर्चे पर अस्पताल के मेडिसिन विभाग, जनरल सर्जरी विभाग, स्त्री एवं प्रसूति रोग, आर्थोपेडिक, नाक-कान-गला विभाग, नेत्र रोग विभाग, मानसिक रोग विभाग, चेस्ट एंड टीबी विभाग, मनोरोग विभाग,

दंत विभाग व बालरोग विभाग के मरीज भी संस्थान की फार्मेसी से दवा खरीद सकेंगे। इससे हजारों मरीजों का रोज फायदा होगा।

लोहिया संस्थान प्रवक्ता डॉ. श्रीकेश के मुताबिक, अस्पताल में पूर्व की तरह मुफ्त वाली दवा बांटी जाती रहेगी। जो दवाएं अस्पताल में नहीं मिल रही हैं, उन्हें संस्थान की फार्मेसी से मरीज ले सकेंगे।

इसमें अस्पताल वाला पर्चा ही मान्य होगा। संस्थान की फार्मेसी पर 65 से 75 फीसद तक सस्ती चार हजार दवाएं व सर्जिकल सामान उपलब्ध हैं।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]