नई संसद के लिए 20,000 करोड़ हैं तो वैक्सीन के लिए 30,000 करोड़ क्यों नहीं? ममता – पश्चिम बंगाल

नई संसद के लिए 20,000 करोड़ हैं तो वैक्सीन के लिए 30,000 करोड़ क्यों नहीं? ममता

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी सरकार के समक्ष देश के लोगों के लिए फ्री कोरोना वैक्सीन की मांग को दोहराया है। उनका कहना है कि फ्री कोरोना वैक्सीन के मुद्दे पर अभी तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोई जवाब नहीं दिया गया है। ममता बनर्जी ने कहा है कि कोरोना वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30000 करोड रुपए आवंटित क्यों नहीं कर रहे हैं?

जबकि विधानसभा निर्माण और मूर्तियां बनाने के लिए 20000 करोड रुपए तक खर्च किए जा रहे हैं। आखिर बीते साल इकट्ठा किया गया पीएम केयर्स फंड कहां है? देश के युवाओं की जिंदगी को यह सरकार खतरे में क्यों डालने पर उतारू है। देश में स्थिति का जायजा लेने के लिए मोदी सरकार के नेताओं को इधर-उधर दौरे करने की जगह अस्पतालों में जाना चाहिए।

ममता बनर्जी ने आरोप लगाया है कि कई जगहों पर भाजपा के ही नेता कोरोना संक्रमण फैला रहे हैं।

गौरतलब है कि बीते साल जब भारत में कोरोना संक्रमण की पहली लहर ने दस्तक दिया था। तो मोदी सरकार द्वारा देश में लॉकडाउन लगाया गया था। इसके साथ ही मोदी सरकार ने पीएम केयर्स फंड शुरू किया था।

जिसमें देश भर के बड़े सेलेब्रिटीज़ से लेकर आम जनता ने भी भर भर कर डोनेशन दिया था। लेकिन आज तक उस पैसे का इस्तेमाल कहां पर किया गया है।
इस पर मोदी सरकार ने कोई जवाबदेही नहीं दी है। इससे पहले भी विपक्षी दलों ने पीएम केयर्स फंड को लेकर कई सवाल उठाए हैं।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]