हर्पीज सिम्प्लेक्स वायरस से ग्रसित भारत का पहला मरीज गाजियाबाद में मिला – गाजियाबद

हर्पीज सिम्प्लेक्स वायरस से ग्रसित भारत का पहला मरीज गाजियाबाद में मिला

गाजियाबाद में आरडीसी स्थित एक निजी अस्पताल में  हर्पीज सिम्प्लेक्स वायरस के संक्रमण का मामला प्रकाश में आया है।

शुक्रवार को अस्पताल के चैयरमेन व नाक-कान गला विशेषज्ञ डॉ ब्रजपाल त्यागी के मुताबिक, यह वायरस कोरोना से 30 गुना ज्यादा खतरनाक है। उनका कहना है विश्व का दूसरा और भारत का पहला केस।

डॉ त्यागी ने बताया कि 35 वर्षीय विवेक को करीब एक माह पहले करोना हुआ था। वह डायबीटीज से ग्रसित है। पिछले महीने 26 मई को विवेक हर्ष अस्पताल आए।

उनमें नाक के फंगस के सारे लक्षण थे। उसके साथ-साथ तेज बुखार, सिर दर्द और गर्दन में खिंचाव था। विवेक की दाईं नाक की दूरबीन से जांच की गई तो उसमें फंगस इन्फेक्शन के लक्षण मिले।

लेकिन पैथोलॉजी रिपोर्ट ने उनको चौंका दिया। विवेक को ‘हर्पीज सिम्प्लेक्स’ टाइप-1 का इन्फेक्शन निकला।

डॉ बीपी त्यागी के अनुसार, 30 साल में उनके सामने पहला केस है। नाक के अंदर यह इन्फेक्शन उन्होंने इससे पहले किसी मरीज में नहीं देखा था।

स्टडी करने पर पाया कि इस तरह का एक मामला 2019 यूएसए में मिला था। यह विश्व का दूसरा और भारत का पहला केस है।

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]