एक करोड़ की रंगदारी मामले में था वांछित, टिल्लू ताजपुरिया गैंग का शार्प शूटर हुआ गिरफ्तार – नई दिल्ली

एक करोड़ की रंगदारी मामले में था वांछित, टिल्लू ताजपुरिया गैंग का शार्प शूटर हुआ गिरफ्तार

दिल्ली के साउथ-वेस्ट जिला पुलिस की टीम ने टिल्लू ताजपुरिया गैंग के एक शार्पशूटर को गिरफ्तार किया है। वह सागरपुर थाने के तहत हत्या के प्रयास और दिल्ली के व्यवसायी से एक करोड़ की रंगदारी के मामले में वांछित था।

पुलिस ने उसके पास से पिस्टल और छह जिंदा कारतूस बरामद की है।

जिला पुलिस अधिकारी ने बताया कि 1 मई को एक शिकायतकर्ता ने बताया कि उसका भतीजा साहिल निखिल उसके घर आया और उस पर पिस्टल से फायरिंग कर दी।

पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई. तदनुसार सागरपुर थाने के तहत मामला दर्ज कर गंभीरता को भांपते हुए, आरोपी व्यक्ति को गिरफ्तार करने के लिए कई टीमों को काम सौंपा गया क्योंकि वह टिल्लू ताजपुरिया गैंग का शार्प शूटर था।

पुलिस ने आरोपी के सभी परिजनों से पूछताछ की  लेकिन उसका पता नही चला. बाद में पता चला कि आरोपी अपने एक रिश्तेदार से मिलने रेवाड़ी (हरियाणा) गया है।

इसके बाद टीम ने रेवाड़ी में छापेमारी की. लेकिन जब तक टीम रेवाड़ी पहुंची तब तक आरोपी वहां से जा चुका था। आरोपी प्रवर्तन एजेंसी को गुमराह करने के लिए विभिन्न कॉलिंग ऐप्स का उपयोग कर रहा था।

इसी दौरान पता चला कि सुनील मान के निर्देश पर आरोपी ने बख्तावरपुर गांव और बवाना में शरण ली है और यह भी पता चला कि आरोपी साहिल ने टिल्लू गैंग के एक अन्य गैंगस्टर लोकेश और हिम्मत उर्फ चीकू की मदद ली है जो फिलहाल जेल में बंद हैं.
इसी बीच एएटीएस की टीम को सूचना मिली कि आरोपी साहिल उर्फ निखिल अपने गैंग के एक सदस्य से मिलने नसीरपुर आएगा. इसके बाद टीम ने अपना जाल बिछाकर आरोपी साहिल को एसडीएमसी प्राईमरी स्कूल, मंगलापुरी के सामने रुकने का संकेत दिया.

पुलिस टीम से घिरा हुआ पाकर आरोपी ने बचने के लिए अपनी पिस्टल निकाल ली. लेकिन एसआई महेश और हेड कांस्टेबल हरि ओम की त्वरित कार्रवाई से उसे पकड़ लिया गया. पुलिस ने उसके पास से एक पिस्टल और 06 जिंदा कारतूस बरामद किये हैं. वह पहले भी 9 आपराधिक मामलों में संलिप्त पाया गया है.

Vairochan Media (Opc) Private Limited

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]