मोदी- शाह ने जिन मंत्रियों को जागरुकता फैलाने की दी जिम्मेदारी, उन्हें खुद नहीं पता CAA और NRC क्या है – भारत

मोदी- शाह ने जिन मंत्रियों को जागरुकता फैलाने की दी जिम्मेदारी, उन्हें खुद नहीं पता CAA और NRC क्या है

The Netizen News

भाजपा ने अपने जिन मंत्रियों और विधायकों को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के बारे में जागरूकता अभियान चलाने की जिम्मेदारी दी है, उन्हें खुद ‘सीएए’ और ‘एनआरसी’ का मतलब नहीं पता है।

यह स्थिति चित्रकूट में उस समय देखने को मिली, जब संवाददाताओं के पूछने पर कृषि राज्य मंत्री बंगला झांकने लगे।

देश के कई हिस्सों में नागरिक संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर लगातार प्रदर्शन हो रहे है। इस बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) घर-घर जाकर सीएए और एनआरसी से किसी की नागरिकता नहीं जाने की जानकारी देने की मुहिम छेड़े हुए है। 

सबसे पहले समाचार पाने के लिए लाइक करें

इसी सिलसिले में राज्य सरकार में कृषि राज्य मंत्री श्रीराम चौहान चित्रकूट पहुंचे और जिला मुख्यालय में बीजेपी के तमाम पदाधिकारियों के साथ शांति मार्च निकाला और लोगों को जागरूक किया।

इस दौरान संवाददाताओं ने उनसे सीएए और एनआरसी विषय में पूछा। इस सवाल पर मंत्री महोदय इधर-उधर झांकने लगे और कुछ देर की चुप्पी के बाद उन्होंने सिर्फ इतना कहा कि “फिर कभी पूछ लीजिएगा।” कृषि राज्य मंत्री की यह स्थिति अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है।

इसी तरह बीजेपी के ही बांदा जिले की नरैनी सीट से विधायक राजकरन कबीर से सोमवार को जब इस संवाददाता ने सीएए और एनआरसी का अंग्रेजी में फुलफॉर्म और हिंदी में अर्थ जानना चाहा तो उनका जवाब था कि “यह प्रधामंत्री और गृहमंत्री बताएंगे, हम तो उनके इशारे पर सब कुछ कर रहे हैं।”


The Netizen News

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]