उत्तराखंड : महिला सम्मान में पार्टियां एक – उत्तराखंड

उत्तराखंड : महिला सम्मान में पार्टियां एक

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

देवों की नगरी कहे जाने वाले उत्तराखंड में महिला सम्मान सबसे प्रथम माना जाता है तो वही कुछ नेताओं द्वारा महिलाओं के लिए आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग करके देवनगरी को कहीं ना कहीं कलंकित करने में योगदान दे रहे हैं और राजनीति का बिस्तर उत्तराखंड में गिराने कोशिश की गई है। जिससे उन्हीं की पार्टी भाजपा सहित सभी राजनीतिक पार्टियां भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत नाराज़ है।

उत्तराखंड की पहचान देवनगरी से की जाती है और इस देवनगरी में महिलाओं का सम्मान सब प्रथम माना जाता है और उत्तराखंड की राजनीति का स्तर इतना दिन में नहीं आया कि महिलाओं को लेकर राजनीति की जाए। लेकिन विकास दिन भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने मंच से नेता प्रतिपक्ष डा० इन्दिरा हदृयेश के लिए घोर निन्दनीय आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया गया था।

जिसके बाद उत्तराखंड में राजनीति कर रहे सभी पार्टियां, भाजपा कांग्रेस बसपा आम आदमी पार्टी ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के बयान की निंदा की कुछ पार्टियों के नेताओं ने उन पर मुकदमा दर्ज करने की बात कही,

तो कुछ पार्टियों ने प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत से माफी मांगने की मांग की तो उन्हीं के पार्टी के उत्तराखंड मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने ही प्रदेश अध्यक्ष के बयान पर नेता प्रतिपक्ष से माफी मांगी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के इस बयान से राजनीति पार्टियां भाजपा पर निशाना साधते हुए दिखाई दे रही है। बसपा नेता आशिम का कहना है। विगत दिनों भाजपा प्रदेश अध्यक्ष द्वारा नेता प्रतिपक्ष डा० इन्दिरा हदृयेश के लिए घोर निन्दनीय एवं आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग किया गया था.

जिसकी हमसब निन्दा करते हैं।उन्होंने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष ने सम्पूर्ण नारी समाज का घोर अपमान किया है। बसपा नेता आसींद ने कहा कि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वंशीधर भगत को डॉक्टर इंडिया हृदेश के पास जाकर माफी मांगी चाहिए।

तो वहीं दूसरी और पहुंचे कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के बयान के बाद भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के बयानों से भाजपा का चरित्र सामने आता है। जो पार्टी महिला के सम्मान की बात करती थी वह पार्टी अब महिलाओं का सम्मान करती हुई दिखाई दे रही है। प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत के बयान को चिंता का विषय बताते हुए कहा कि यह कांग्रेस की बात नहीं बल्कि महिला के सम्मान की बात है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]