UP: कानपुर के चर्चित पुलिस इंस्पेक्टर ने किया अपराधियों के साथ डांस, Video Viral – कानपुर

UP: कानपुर के चर्चित पुलिस इंस्पेक्टर ने किया अपराधियों के साथ डांस, Video Viral

The Netizen News

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर (Kanpur) के संजीत यादव (Sanjeet Yadav) की हत्या (Murder) के बाद उसके परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। उधर, शनिवार को कानपुर में संजीत यादव हत्याकांड में सस्पेंड चल रहे बर्रा इंस्पेक्टर समेत तीन पुलिस कर्मियों का अपराधियों के साथ डांस करने का वीडियो वायरल हो रहा है।

डीआईजी प्रीतिंदर सिंह ने एक दरोगा को लाइन हाजिर करने के साथ ही निलंबित इंस्पेक्टर समेत तीनों पुलिस कर्मियों के खिलाफ जांच का आदेश दिया है।

डीआईजी ने वायरल वीडियो की जांच एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल को दी. बताया जा रहा है कि निलंबित इंस्पेक्टर रणजीत राय के शादी की सालगिरह का वीडियो है। जिसका आयोजन थाना परिसर में ही किया गया था।

सबसे पहले समाचार पाने के लिए लाइक करें

सोशल मीडिया में वायरल वीडियो में निलंबित इंस्पेक्टर रणजीत राय चकेरी इंस्पेक्टर होने के दौरान अपराधी हसीन उर्फ राजा कालिया के साथ डांस कर रहे थे। इंस्पेक्टर के साथ तत्कालीन रामादेवी चौकी प्रभारी हरिओम गौतम और दरोगा अनिल कुमार त्रिपाठी डांस कर रहे थे।

जबकि राजा कालिया के खिलाफ चकेरी में कई मुकदमें दर्ज हैं। मौजूदा समय में चकेरी में तैनात डांस कर रहे दरोगा अनिल कुमार त्रिपाठी को लाइन हाजिर कर दिया गया।

जबकि रणजीत राय संजीत अपहरण कांड में पहले से निलंबित हैं और दरोगा हरिओम गौतम भी 1 मई को निलंबित चल रहे हैं। डीआईजी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि मामले की प्रारंभिक जांच एसपी पूर्वी राजकुमार अग्रवाल को दी गई है। जांच रिपोर्ट के आधार पर दोषी पुलिस कर्मियों पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी।


इन 4 पुलिस अफसरों पर गिरी थी गाज: सीएम के निर्देश के बाद शासन से मिली जानकारी के अनुसार जनहित में अपर पुलिस अधीक्षक, दक्षिणी कानपुर नगर, आईपीएस अपर्णा गुप्ता और मनोज गुप्ता तत्कालीन सीओ को निलंबित कर दिया गया है।

इसके अलावा लापरवाही बरतने के आरोप में पूर्व प्रभारी निरीक्षक थाना बर्रा रणजीत राय और चौकी इंचार्ज राजेश कुमार को निलंबित कर दिया गया है।

बता दें कानपुर के बर्रा से अपहृत लैब टेक्नीशियन संजीत यादव के अपहरण मामले में गुरुवार देर रात बुरी खबर आई है। पुलिस के अनुसार युवक की हत्या की जा चुकी है। पुलिस अभी भी युवक की लाश की बरामदगी नहीं कर सकी है, तलाश जारी है।

उधर युवक की मौत की सूचना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. पुलिस ने मामले में 5 लोगों को हिरासत में लिया है।

उधर, एक महीने से अपहरण के इस मामले में कानपुर पुलिस की लापरवाही भी सामने आई है। इस किडनैपिंग केस में पुलिस पर आरोप भी लगे हैं कि उसने अपहृत युवक के परिजनों से अपहरणकर्ताओं को 30 लाख रुपए भी दिलवा दिए।


The Netizen News

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]