कोटा में भूख हड़ताल पर बैठे बिहार के छात्र, सीएम नीतीश कुमार से लगाई वापसी की गुहार – राजस्थान

कोटा में भूख हड़ताल पर बैठे बिहार के छात्र, सीएम नीतीश कुमार से लगाई वापसी की गुहार

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कोटा : कोरोना वायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के कारण राजस्थान के कोटा में फंसे बिहार के छात्रों ने अपनी घर वापसी के लिए भूख हड़ताल शुरू कर दिया है।

उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से अपने घर जाने के लिए बसें भेजने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि कई दूसरे राज्यों के छात्र यहां से अपने घर जा चुके हैं ऐसे में हमें भी यहां से ले जाने की व्यवस्था की जाए। हालांकि, बिहार सरकार ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि कोटा से छात्रों को लाना फिलहाल संभव नहीं है।

लॉकडाउन के चलते कोटा में फंसे हैं बिहार के छात्र

लॉकडाउन के कारण कोटा में अटके करीब 18,000 कोचिंग छात्र अपने-अपने घर लौट चुके हैं। लॉकडाउन की घोषणा के बाद मेडिकल (नीट) और इंजीनियरिंग प्रवेश (जेईई) परीक्षा की कोचिंग ले रहे करीब 40000 छात्र कोटा में अटक गए थे।

अब तक वहां से पांच राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के करीब 18 हजार विद्यार्थी अपने-अपने घर जा चुके हैं। उनमें उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड के करीब 12 हजार 500, मध्यप्रदेश के 2800, गुजरात के 350 और दादरा-नगर हवेली के 50 बच्चे शामिल हैं। इसी प्रकार कोटा संभाग के दूसरे जिलों के 2200 बच्चों को भी सकुशल उनके घर पहुंचाया गया है।

छात्रों ने की सीएम नीतीश से बसें भेजने की अपील

वहीं, कोटा में पढ़ाई कर रहे बिहार के छात्रों को वापस बुलाने के लिए नीतीश कुमार सरकार की ओर से अभी कोई कदम नहीं उठाया गया।

बिहार के मुख्य सचिव दीपक कमार ने सोमवार को ही एक जवाब में बताया था कि कोटा से बच्चों को बिहार वापस लाना फिलहाल संभव नहीं।

यही नहीं कोटा से छात्रों के निकाले जाने के फैसले को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नाराजगी जताई थी।

नीतीश कुमार ने राज्यों की ओर से छात्रों को बसों से भेजे जाने को लॉकडाउन का उल्लंघन बताया था। उन्होंने कहा था कि अगर ऐसे कदम उठाए जाने लगे तो लॉकडाउन का मतलब नहीं रहेगा।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]