'विकिपीडिया पर रोक अभिव्यक्ति के अधिकार का उल्लंघन'

‘विकिपीडिया पर रोक अभिव्यक्ति के अधिकार का उल्लंघन’

Plz share with love

विकिपीडिया वेबसाइट चलाने वाली विकीमीडिया फ़ाउंडेशन ने तुर्की के एक कोर्ट के उस फ़ैसले का स्वागत किया है जिसमें कहा गया है कि उनकी वेबसाइट पर देशव्यापी प्रतिबंध असंवैधानिक है।

अदालत ने फ़ैसला सुनाते हुए कहा कि देशभर में वेबसाइट पर रोक लगाना अभिव्यक्ति के अधिकार का उल्लंघन है। तुर्की सरकार ने साल 2017 में विकीपीडिया पर प्रतिबंध लगा दिया था।

ये प्रतिबंध वेबसाइट पर मौजूद उन जानकारियों को देखते हुए लगाया गया था जिनमें लिखा गया था कि तुर्की ने सीरिया में आतंकी संगठनों को समर्थन किया था।

सबसे पहले समाचार पाने के लिए लाइक करें

विकीमीडिया फ़ाउंडेशन इस मामले को लेकर यूरोपीय मानवाधिकार कोर्ट में भी गई है। कोर्ट में मौजूद फ़ाउडेंशन के मुख्य वक़ील शैन ने कहा, “विकीमीडिया इस फ़ैसले का स्वागत करता है। लेकिन इसका यह मतलब बिल्कुल भी नहीं है कि यूरोपीय मानवाधिकार कोर्ट से इसे वापस ले लिया जाएगा. हमें तुर्की के संवैधानिक कोर्ट के इस फ़ैसले को बारीकी से देखने के लिए वक़्त लेना होगा. हमें इसके सभी आयामों को देखना होगा.”


Plz share with love

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter