घरों में बंद हुए लोग, प्रजनन के लिए समुद्र तट पर लौट आए कछुए।

घरों में बंद हुए लोग, प्रजनन के लिए समुद्र तट पर लौट आए कछुए।

Plz share with love

इंसानों ने अपने स्वार्थ के लिए अन्य जानवरों के परिवेश में किस तरह से दखल दिया है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते है। कि आज इंसान जब घरों में कैद है तो जानवर सकूँ महसूस कर रहे है।

दुनिया भर में कई देश कोरोना वायरस की चपेट में है जिसके बढ़ते मामले को देखते हुए कई देश अपने शहरों में लॉकडाउन किया है। हालंकि इस लॉक डाउन के बाद पर्यावरण के कई सकारात्मक बदलाव भी देखे गए हैं.

इसी बीच उड़ीसा के रुशिकुल्या बीच (Rushikulya Beach) पर कई सारे कछुए प्रजनन के लिए पहुंच गए हैं ऐसा माना जाता है। वन विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 70, 000 से अधिक ओलिव रिडलेज़ (Olive Ridleys) कछुए अपना घोंसला बनाने के लिए रुशिकुल्या बीच पहुंच गए हैं।

और जल्द ही यहां मादा ओलिव रिडलेज़ कछुए आराम से प्रजनन कर सकेंगे क्योंकि 21 दिनों के लॉकडाउन के चलते कोई भी इंसान उन्हें परेशान नहीं करेगा।

अब तक यहां पर 7 लाख से अधिक कछुओं ने प्रजनन किया है और हर साल मार्च में ये कछुए गहिरमाथा और रुशिकुल्या बीच पर प्रजनन के लिए पहुंचते हैं और इस बार भी कछुएं अपने सयम के मुताबिक प्रजनन के लिए यहां पहुंच गए हैं।

वन विभाग का मानना है कि इस साल मादा कछुएं 6 करोड़ अंडे देंगी. वहीं वन विभाग ने यह दावा भी किया है कि इस साल कछुओं की सबसे अधिक संख्या देखी गई है.


Plz share with love

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]