यहां के खेल प्रेमियों जैसा उत्साह कहीं नहीं देखा: मंत्री जयवर्धन सिंह

यहां के खेल प्रेमियों जैसा उत्साह कहीं नहीं देखा: मंत्री जयवर्धन सिंह

Plz. Share this on your digital platforms.
123 Views

छतरपुर: 66वें मेला महोत्सव में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी अखिल भारतीय क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया। यह टूर्नामेंट पूरे देश में विख्यात है।

यहां के खेलप्रेमियों की संख्या देखकर समापन अवसर पर आए प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह न केवल उत्साहित हुए बल्कि उन्होंने मंच से कहा कि बिना संसाधन के इतनी बड़ी संख्या में खेलप्रेमी यहां मौजूद हैं।

इस तरह प्रदेश के अन्य स्थानों में खेलप्रेमियों की संख्या देखने को नहीं मिलती। उन्होंने स्टेडियम के विकास के लिए एक करोड़ रूपए देने की घोषणा की वहीं नगर के विकास के लिए 50 लाख रूपए अतिरिक्त देने की बात कही है।

मेला महोत्सव के अवसर पर आयोजित क्रिकेट टूर्नामेंट के समापन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रदेश के नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धन सिंह शामिल हुए। उन्होंने आयोजनकर्ताओं को शुभकामनाएं देते हुए छोटे से स्थान में इतने बड़े कार्यक्रम का बेहतर ढंग से आयोजन किए जाने की बधाई दी।

उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि वे प्रदेश के कई हिस्सों में टूर्नामेंटों में शामिल हुए हैं लेकिन इतनी अधिक संख्या में छोटे स्थान पर खेलप्रेमी नहीं देखे। इस दौरान स्टेडियम में हजारो की संख्या में लोग मौजूद रहे।

नौगांव के स्टेडियम में चरखारी, महोबा, बांदा, टीकमगढ़, छतरपुर सहित अन्य स्थानों से खेलप्रेमी मैच देखने आते हैं। कार्यक्रम के दौरान छतरपुर विधायक आलोक चतुर्वेदी पज्जन, राजनगर विधायक नातीराजा, बड़ामलहरा विधायक प्रद्युम्र सिंह लोधी, चित्रकूट विधायक नीलांशु त्रिपाठी, महाराजपुर विधायक नीरज दीक्षित, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनेाज त्रिवेदी, प्रदेश सचिव गगन यादव, कलेक्टर मोहित बुंदस सहित अन्य अतिथि मौजूद रहे। सीएमओ बसंत चतुर्वेदी ने सभी सहयोगियों और खेलप्रेमियों का आभार जताया।


गाजियाबाद ने दिल्ली को हराकर किया खिताब पर कब्जा


टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला गाजियाबाद और दिल्ली के बीच हुआ। टॉस जीतकर गाजियाबाद के कप्तान प्रदीप शर्मा ने पहले बल्लेबाजी करने का निर्णय लिया और 19.2 ओवर में 152 रन बनाए। इन रनों को जोडऩे में पुनीत मेहरा के 48, धीरू के 22, प्रदीप शर्मा के 15 और गौरव तोमर के 10 रनों का योगदान रहा।

जवाब देने मैदान में उतरी दिल्ली की टीम शुरूआत में ही लडख़ड़ाने लगी। दो विकेट जल्दी गिरने के बाद कप्तान नमन शर्मा ने पारी को संभाला और 50 रनों का योगदान दिया हालांकि 18.5 ओवर में ही पूरी टीम 124 रनों पर सिमट गई।

विजेता गाजियाबाद को एक लाख रूपए और उपविजेता दिल्ली को 50 हजार रूपए का पुरस्कार दिया गया। सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज का खिताब दिल्ली के कैप्टन नमन शर्मा को मिला, गेंदबाज के रूप में निशांत ठाकुर दिल्ली, विकेटकीपर ओवेश खान गाजियाबाद, ऑलराउण्डर अंकित नरवाल गाजियाबाद को सम्मानित किया गया।

पूर्व सांसद जीतेन्द्र सिंह बुन्देला की स्मृति में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को 11 हजार रूपए दिए गए।

तीन नगरीय निकायों को मिलेंगे एक-एक करोड़ रूपए

स्कूली बच्चों द्वारा स्टेडियम में राष्ट्रगान प्रस्तुत किया गया। राष्ट्रगान के साथ ही 11 बजे खेल की शुरूआत हुई। उधर ड्रोन के माध्यम से अतिथियों और खेलप्रेमियों के ऊपर पुष्पवर्षा की गई।

मंच के माध्यम से विधायक नीरज दीक्षित ने अपने क्षेत्र की नगर परिषद हरपालपुर, गढीमलहरा और नगर पालिका महाराजपुर के विकास के लिए नगरीय प्रशासन मंत्री से राशि देने का आग्रह किया जिस पर मंत्री जयवर्धन सिंह ने तीनों नगरीय निकायों के लिए एक-एक करोड़ रूपए दिए जाने की बात कही।

Plz. Share this on your digital platforms.

Subscribe To Our Newsletter