महाराष्ट्र: किसानों ने दूध की कीमत बढ़ाने को लेकर किया आंदोलन, सड़क को बना दिया दूध की नदी – भारत

महाराष्ट्र: किसानों ने दूध की कीमत बढ़ाने को लेकर किया आंदोलन, सड़क को बना दिया दूध की नदी

The Netizen News

कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए देश में लगे लॉकडाउन ने दूध उत्पादक किसानों की कमर तोड़ दी है। ऐसे में किसानों ने दूध का खरीद मूल्य बढ़ाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर पश्चिमी महाराष्ट्र के सांगली और कोल्हापुर जिलों में मंगलवार को एक आंदोलन शुरू किया।

आंदोलनकारियों ने राजू शेट्टी के नेतृत्व वाले किसान संगठन ‘स्वाभिमानी शेतकारी संगठन’ के सदस्यों के साथ मिलकर दूध के टैंकरों को रोका और उन्हें पुणे-बेंगलुरू राजमार्ग पर खाली कर दिया।

जानकारी के अनुसार शेट्टी ने बताया कि वे दूध की खरीद की कीमतों में पांच रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी और इसका लाभ सीधे दूध उत्पादकों के खातों में डाले जाने की मांग कर रहे हैं।

सबसे पहले समाचार पाने के लिए लाइक करें

उन्होंने कहा, “हम दूध के उत्पादकों के लिए 30 रुपये की निर्यात सब्सिडी और दूध उत्पादों पर लगाए गए माल एवं सेवा कर (जीएसटी) को रद्द करने की भी मांग कर रहे हैं.”

केंद्र के फैसले को रद्द करने की मांग: जानकारी के अनुसार वही शेट्टी ने 10,000 टन दूध पाउडर आयात करने के केन्द्र के फैसले को रद्द करने की भी मांग की।

उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की इस योजना के कारण राज्य में दूध का व्यापार प्रभावित हो रहा है।

भाजपा पुणे इकाई के अध्यक्ष जगदीश मुलिक ने कहा कि दूध उत्पादकों की मांग पूरी नहीं होने पर वे एक अगस्त से राज्यव्यापी आंदोलन शुरू करेंगे।

पुणे में भाजपा नेताओं ने सोमवार को जिलाधिकारी नवल किशोर राम को अपनी मांगों का एक ज्ञापन भी सौंपा था।


The Netizen News

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]