लखनऊ : शोषण के विरुद्ध आवाज उठा कर 102 व 108 के कर्मचारियों ने किया शांतिपूर्वक धरना

लखनऊ : शोषण के विरुद्ध आवाज उठा कर 102 व 108 के कर्मचारियों ने किया शांतिपूर्वक धरना

The Netizen News

इटौंजा लखनऊ कोरोना जैसी
वैश्विक महामारी में भी 102, 108 और ए एल एस के कर्मचारी लगातार लोगों को निरंतर सेवा दे रहे हैं।

वही एम्बुलेन्स कर्मियो का आरोप है दिन रात इतनी मेहनत करने के बाद भी उसको चलाने वाली कंपनी जीवीके एम आर आई लगातार अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रही है, और अपनी गतिविधियो को बरकरार करते हुए शोषण पर शोषण करती जा रही है।

इसी को मद्देनजर रखते हुए एम्बुलेन्स कर्मियो ने शासन-प्रशासन को चेतावनी देने तथा अपनी बात को ऊपर तक पहुंचाने और एम्बुलेन्स कर्मियो के प्रति शोषण रोकने और जीवीके के कालाबाजारी और घोटाला को रोकने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से इटौंजा सामुदायिक स्वास्थ केंद्र के सामने अपनी कमेटी के साथ बैठकर धरना प्रदर्शन किया।

एंबुलेंस कर्मियों का आरोप है यह निश्चय कर लिया है कि कार्यरत लोगो के प्रति हो रहे अत्याचार और शोषण को रोककर फर्जी घोटाला को रोककर जीवीके कंपनी को मुंहतोड़ जवाब देने की ठानी है। सोनू तिवारी कोषाध्यक्ष ने बताया जिसके चलते सोमवार को 102 एंबुलेंस का कार्य ठप कर दिया गया है।एंबुलेंस कर्मियों की मांग कुछ इस प्रकार की है।

शासन द्वारा वेतन की भुगतान की तारीख निश्चित की जाए ,और सात दिन के अंदर वेतन दिया जाए, कार्य समय से ज्यादा पड़ने पर उसे डबल दर से किया जाए

इसी तरह की कई मांगे हैं।
और जल्दी ही कोई फैसला अगर कंपनी नहीं ले रही है इसके बाद 108 की सेवा भी रोककर बड़ा प्रदर्शन किया जाएगा।


The Netizen News

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]