किसान आंदोलन : कृषि कानूनों की कॉपी जलाकर मनाया लोहड़ी। – भारत

किसान आंदोलन : कृषि कानूनों की कॉपी जलाकर मनाया लोहड़ी।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नए कृषि कानूनों पर रोक लगाए जाने के सुप्रीम कोर्ट के अंतरिम आदेश के बावजूद दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन जारी है। किसान पिछले 49 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर डटे हुए हैं।

किसान संगठनों ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त समिति को मान्यता नहीं दी और कहा कि वे समिति के सामने पेश नहीं होंगे और अपना आंदोलन जारी रखेंगे। इसके साथ ही किसानों ने शाम को किसान तीनों कानूनों की कॉपी जलाकर लोहड़ी का पर्व मनाया

सिंघू बॉर्डर पर किसान नेताओं ने दावा किया कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित समिति के सदस्य सरकार समर्थक हैं। किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से गठित समिति के सदस्य विश्वसनीय नहीं हैं क्योंकि वे लिखते रहे हैं कि कृषि कानून किसानों के हित में है। हम अपना आंदोलन जारी रखेंगे।

‘हमने समिति के गठन करने की मांग नहीं की’

किसान नेता ने कहा कि संगठनों ने कभी मांग नहीं की कि सुप्रीम कोर्ट कानून पर जारी गतिरोध को खत्म करने के लिए समिति का गठन करे। किसानों ने आरोप लगाया कि इसके पीछे केंद्र सरकार का हाथ है। उन्होंने कहा कि हम सिद्धांत तौर पर समिति के खिलाफ हैं। प्रदर्शन से ध्यान भटकाने के लिए यह सरकार का तरीका है।

किसान नेताओं ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट स्वत: संज्ञान लेकर कृषि कानूनों को वापस ले सकता है। एक अन्य किसान नेता दर्शन सिंह ने कहा कि वे किसी समिति के समक्ष पेश नहीं होंगे। संसद को मुद्दे पर चर्चा करनी चाहिए और इसका समाधान करना चाहिए। हम कोई बाहरी समिति नहीं चाहते हैं।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]