लॉकडाउन सरकार की बिना तैयारी का एक संकटपूर्ण उदाहरण: मजदूरों के पलायन पर बोले पी चिदंबरम

लॉकडाउन सरकार की बिना तैयारी का एक संकटपूर्ण उदाहरण: मजदूरों के पलायन पर बोले पी चिदंबरम

Plz share with love

कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए किए गए लॉकडाउन के दौरान मजदूरों एवं गरीबों के अपने घरों के लिए पैदल निकलने को लेकर पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए हैं।

पी चिदंबरम ने लॉकडउन को लेकर कहा कि सरकार ने बिना किसी तैयारी के यह फैसला लिया। पी चिदंबरम ने पूछा है कि आखिर लॉकडाउन में अपने घरों की ओर लौट रहे प्रवासी मजदूरों को लेकर केंद्र और राज्य सरकारें क्या कर रही हैं?

पी चिदंबरन ने शुक्रवार को ट्ववीट किया, ‘केंद्र और राज्य सरकारें उन प्रवासी श्रमिकों के बारे में क्या कर रही हैं, जिन्हें शहरों और कस्बों को छोड़ने की अनुमति दी गई थी और जो अपने गांवों में वापस जाने का रास्ता तलाश रहे हैं?’

भारत में अब तक कुल 873 लोगों के कोरोनावायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है, जिसमें से 775 व्यक्ति अभी भी कोविड-19 से ग्रस्त हैं।

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी। देश में कोरोनावायरस महामारी के चलते 20 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें केरल में एक मौत का मामला भी शामिल है।


Plz share with love

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]