कपिला पशु आहार और आरती चिटफंड पर आयकर छापों में मिली 121 करोड़ रुपये की अघोषित इनकम, 52 लाख के सोने और हीरे की ज्वेलरी जब्त – कानपुर

कपिला पशु आहार और आरती चिटफंड पर आयकर छापों में मिली 121 करोड़ रुपये की अघोषित इनकम, 52 लाख के सोने और हीरे की ज्वेलरी जब्त

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कपिला पशु आहार और आरती चिटफंड प्राइवेट लिमिटेड पर आयकर छापे दूसरे दिन भी जारी रहे।

24 घंटे बाद दस परिसरों पर जांच बंद कर दी गई जबकि बीस पर जांच जारी है। दस्तावेजों और बैंकिंग लेन-देन के अध्ययन के लिए दिल्ली से फोरेंसिक टीम कानपुर पहुंची है।

बुधवार को प्रधान आयकर निदेशालय जांच के नेतृत्व में यूपी, दिल्ली और पंजाब में इन कंपनियों के परिसरों पर छापे मारे गए थे।

दूसरे दिन 130 आयकर अधिकारियों की टीम विभिन्न परिसरों में पड़ताल करती रही। अभी तक एक करोड़ रुपए कैश बरामद किए गए हैं।

दो दर्जन संपत्तियों के पेपरों के साथ लॉकरों को सीज किया गया है जिन्हें रेड खत्म होने के बाद खोला जाएगा।

खातों के स्टेटमेंट बैंकों से मांगे गए हैं फोरेंसिक टीम दस्तावेजों की जांच करेगी कि संपत्तियों को आईटीआर में दिखाया गया है या नहीं।

कुछ समय पहले खरीदी गई संपत्तियों के पेपरों की जांच भी फोरेसिंक एक्सपर्ट कर रहे हैं। 30 परिसरों में दो दोपहर दो बजे तक दस जगह जांच बंद कर दी गई। बीस जगह यानी घर, फैक्टरियों में जांच चलती रही।

आयकर सूत्रों के मुताबिक करोड़ों का टैक्स चोरी का मामला दिख रहा है लेकिन फाइनल आंकड़ा छापे खत्म होने के बाद ही सामने आएगा। कुछ टीमें आरती चिटफंड की जांच अलग से कर रही हैं।

अभी तक दोनों कंपनियों के बीच आपस में कोई लिंक नहीं मिला है। करीबी रिश्तेदारी की वजह से आरती चिट फंड को सर्च में कवर किया गया है।

4 महीने से हो रही थी रेकी
आयकर सूत्रों के मुताबिक लॉकडाउन से पहले ही दोनों पर नजर थी। कुछ समय से टर्नओवर काफी कम दिखाया जा रहा था। प्राफिट एकाएक घट गया था जबकि उत्पादन अच्छा खासा था।

पड़ताल के लिए चार महीने से रेकी की जा रही थी। रनिया के संयंत्र को देखकर आयकर अधिकारी हैरान रह गए।

रनिया की फैक्टरी देश में पशु आहार की सबसे बड़ी फैक्टरी है। इस फैक्टरी में सौ फीसदी आटोमेटिक प्लांट है करोड़ों रुपए की मशीनरी लगी है।

ये पैसा कहां से आया और कैसे भुगतान किया गया, इसकी जांच भी विभाग कर रहा है। इसी तरह आरती चिट फंड कंपनी से जुड़े सभी आफिसों में रेड जारी है। डीलरों को फिलहाल छापे से बाहर रखा गया है।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]