हिंदू महासभा ने गोडसे को बंदूक दी थी, जिससे बापू की हत्या की गई। - महात्मा गाँधी प्रपौत्र तुषार गांधी – News

हिंदू महासभा ने गोडसे को बंदूक दी थी, जिससे बापू की हत्या की गई। – महात्मा गाँधी प्रपौत्र तुषार गांधी

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

महात्मा गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे पर हिंदू महासभा के स्टडी सेंटर खोलने पर ‘बापू’ के प्रपौत्र तुषार गांधी ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि 70 साल बाद बदले हुए वैचारिक माहौल में गोडसे पर बहस हो रही है और दोषी को सुने जाने के लिए अच्छी गुंजाइश दी जा रही है। नाथूराम गोडसे को आखिरकार इस बहस से खुशी हुई होगी।

बता दें कि हिंदू महासभा ने ग्वालियर के दौलतगंज स्थित हिंदू महासभा के कार्यालय में गोडसे कार्यशाला शुरू की है। यहां संगठन के पदाधिकारियों ने गोडसे सहित वीर सावरकर, रानी लक्ष्मीबाई और संघ से जुड़े अन्य पदाधिकारियों की तस्वीर की पूजा-अर्चना की।

हिंदू महासभा गोडसे के इस स्टडी सेंटर में उसके किस्से लोगों को बताएगी। इस दौरान महासभा के नेता जयवीर भारद्वाज ने नेहरू और जिन्ना का ज़िक्र कर गोडसे को सही साबित करने की कोशिश की

इस मसले पर महात्मा गांधी के के प्रपौत्र तुषार गांधी ने कहा कि ग्वालियर के हिंदू महासभा ने गोडसे को बंदूक दी थी, जिससे बापू की हत्या की गई। लेकिन अब महासभा ने नाथूराम गोडसे के नाम पर एक स्टडी सर्कल स्थापित किया है, ‘नाथूराम गोडसे अकादमी ऑफ़ मर्डर.’

गौरतलब है कि इसके पहले हिंदू महासभा ने 15 नवंबर 2017 को ग्वालियर में गोडसे का मंदिर बनाने के लिए उसकी मूर्ति लगाई थी। लेकिन उस समय उसे जब्त कर लिया गया। अब उसी ग्वालियर में गोडसे की लाइब्रेरी खोल दी गई है, जहां महात्मा गांधी की हत्या की साजिश रची गई थी।

इस बीच इस पूरे घटनाक्रम पर कांग्रेस शिवराज सरकार पर हमलावर है. पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा है कि शिवराज सरकार में राष्ट्र पिता बापू के हत्यारे नाथूराम गोडसे की ग्वालियर में खुलेआम आरती, महिमामंडन, गोडसे की ज्ञानशाला का आयोजन? उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और बीजेपी यह स्पष्ट करे कि वो किस विचारधारा के साथ हैं? गांधी की या गोडसे की? इस तरह के कार्यक्रम कैसे आयोजित हुए?


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]