तीन महीने के संपूर्ण लॉकडाउन में भी एक लाख से ज्यादा वाहनों का चालान, लगभग साढ़े तीन करोड़ रुपये जुर्माना वसूला – लखनऊ

तीन महीने के संपूर्ण लॉकडाउन में भी एक लाख से ज्यादा वाहनों का चालान, लगभग साढ़े तीन करोड़ रुपये जुर्माना वसूला

प्रतीकात्मक फोटो

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लखनऊ की ट्रैफिक व्यवस्था सुधारने के लिए यातायात पुलिस लगातार सख्ती कर रही है। इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि बीते आठ महीनों में ही पिछले साल की तुलना में करीब 350 प्रतिशत अधिक चालान हुए हैं साथ ही करीब साढ़े तीन करोड़ रुपये जुर्माना वसूला गया है। 

खास बात है कि इनमें से तीन महीने संपूर्ण लॉकडाउन रहा इस दौरान भी करीब एक लाख लोगों के चालान काटे गए।

वहीं, इन आठ महीनों में शमन शुल्क भी 181 प्रतिशत अधिक वसूला गया। वाहन सीज करने में भी 428 फीसदी की बढ़ोत्तरी देखी गई।

सुगम यातायात के लिए कमिश्नरेट ने कई इंतजाम किए। यातायात पुलिस में तैनात निरीक्षक, उपनिरीक्षक, हेडकांस्टेबल व थाना प्रभारियों को 700 एंड्राॅयड मोबाइल दिए गए, ताकि वे नियम तोड़ने वालों का चालान काट सकें। यातायात पुलिस ने 2019 में कुल 95,816 ई-चालान काटे।

वहीं, बीते आठ महीनों में ही संख्या 3,34,257 पहुंच गई है 2019 में 1,90,43959 रुपये शमन शुल्क वसूला, जबकि इन आठ महीनों में ही 3,46,27,010 रुपये शमन शुल्क जमा कराया जा चुका है।  पिछले साल 141 वाहन सीज किए गए तो आठ माह में यह आंकड़ा 604 रहा।

प्रतिबंध के बावजूद घर से निकलने वालों पर कार्रवाई
अप्रैल, मई व जून में संपूर्ण लॉकडाउन में भी यातायात पुलिस सक्रिय रही। अप्रैल में 24,107, मई में 34,805 और जून में 42,416 लोगों का चालान काटा गया, जबकि इन तीन महीनों में जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों को ही घरों से निकलने की अनुमति थी।

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि प्रतिबंध के बावजूद घरों से निकलने वालों के चालान काटे गए। कुछ लोग बिना जरूरी काम के ही सड़कों पर घूम रहे थे। इनके चालान काटकर केस भी दर्ज किए गए।  

अनलॉक होते ही दोगुना हो गया चालान
एडीसीपी यातायात पुर्णेंदु सिंह के मुताबिक अनलॉक-3 व 4 के दौरान लोग घरों से निकले हैं। इसके बाद आवागमन बढ़ा, हालांकि पहले की तुलना में सड़कों पर वाहनों की कतार कम है, लेकिन दो महीनों के अनलॉक में दोगुने से अधिक लोगों ने यातायात नियमों को तोड़ा है।

एडीसीपी के मुताबिक जुलाई में एक लाख से अधिक तो अगस्त में करीब 72 हजार चालान काटे गए। वहीं, सितंबर में भी अब तक 40 हजार के चालान काटे गए हैं।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]