बूढ़ी गंडक उफनाई तो हनुमंत नगर के 200 से अधिक घर डूबे ; बांध पर लेनी पड़ी शरण : मुज्जफरपुर – बिहार

बूढ़ी गंडक उफनाई तो हनुमंत नगर के 200 से अधिक घर डूबे ; बांध पर लेनी पड़ी शरण : मुज्जफरपुर

The Netizen News

बूढ़ी गंडक नदी का पानी बढ़ता जा रहा है दूर से ही बाढ़ प्रभावित अपने घरों को देखकर उसके होने की तसल्ली कर रहे हैं अपने बसे-बसाए घर को छोड़कर जान बचाने के लिए परिवार और जरूरी सामान के साथ सुरक्षित ठांव की तलाश में भटक रहे हैं।

बूढ़ी गंडक नदी का बांध बाढ़ प्रभावितों के लिए अभी सुरक्षित ठिकाना है यहां पॉलिथीन से बने तंबू में सिर छिपाने को मजबूर सतीश कुमार व रेखा देवी ने अपने डूब रहे घरों को दिखाया।

हनुमंत नगर के 200 से अधिक परिवार के लोगों के लिए अब यह बांध ही सहारा है घर में चौकी के ऊपर रखे चौकी पर भी पानी चढ़ जाने के बाद पूरे परिवार के साथ बांध पर आने के अलावा कोई चारा नहीं बचा।

सबसे पहले समाचार पाने के लिए लाइक करें

अब तो अपने घर को सिर्फ यहां से दिखा सकते हैं घर के लिंटर तक पानी पहुंचने से वहां तक जाना भी अब दुरूह कार्य है यह स्थिति केवल हनुमंत नगर की नहीं है शहर के झील नगर, कर्पूरी नगर, बालू घाट, चंदबरदाई नगर, शेखपुर ढाब व विजयी छपरा में भी यही हाल है।

बूढ़ी गंडक नदी के जलस्तर में लगातार वृद्धि हो रही है अपने घर और मोहल्ले में बाढ़ का पानी भर जाने से लोग जरूरी सामान व बच्चों के साथ पलायन कर रहे हैं।


The Netizen News

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]