चीन को बड़ा झटका! बिहार में चीनी कंपनियों से छीना मेगा प्रॉजेक्ट – पटना

चीन को बड़ा झटका! बिहार में चीनी कंपनियों से छीना मेगा प्रॉजेक्ट

The Netizen News

भारत और चीन के बीच लद्दाख में सीमा विवाद को लेकर जारी तनाव की बीच केंद्र सरकार ने चीनी सामान के बहिष्कार की मुहिम को आगे बढ़ाते हुए बिहार में गंगा नदी पर बनने वाले एक मेगा ब्रिज परियोजना के टेंडर को रद्द कर दिया है। इस टेंडर में चीनी कंपनियों के शामिल होने के कारण इसे रद्द कर दिया गया है।

एक अधिकारी द्वारा दी गई जानाकारी के मुताबिक, इस ब्रिज का निर्माण पटना में गंगा नदी पर होना था। फिलहाल इस टेंडर को रद्द कर दिया गया है। ये जानकारी खुद बिहार सरकार के मंत्री नंद किशोर यादव ने दी है।

मंत्री के मुताबिक इस टेंडर को रद्द किए जाने का कारण चुने गए चार कॉन्ट्रैक्टरों में से एक कॉन्ट्रैक्टर चीनी थे।

मंत्री नंद किशोर ने ट्वीट कर कहा, ‘महात्मा गांधी सेतु के साथ बनने जा रहे इस पुल के लिए चुने गए 4 कॉन्ट्रैक्टर्स में से दो के पार्टनर चाइनीज थे। हमने उन्हें पार्टनर बदलने को कहा, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। जिसके चलते हमने टेंडर को रद्द कर दिया है। हमने पुल के निर्माण के लिए दोबारा आवेदन मंगवाए हैं।’

दरअसल, दिसंबर 2019 में इस परियोजना को मंजूरी प्रदान की गई थी। अधिकारियों के द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक ये पुल गंगा नदी पर के पार महात्मा गंधी सेतु के समानांतर बनाया जाना था। पुल के बन जाने से पटनास सारण और वैशाली जिले के लोगों को राहत मिलेगी। इस पूल को साल 2023 तक पुरा किया जाना था।

बिहार में चलने वाली इस परियोजना की लागत लगभग 2,900 करोड़ रुपये से अधिक बताई गई थी। लद्दाख सीमा पर भारत और चीनी सौनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से चीनी सामानों का बायकॉट किए जाने की मुहिम तेज हो गई है।


The Netizen News

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]