BARABANKI : धीरे - धीरे ही सही मगर पुलिस मीडिया की खबरों पर लगा रही है सत्यता की मुहर – बाराबंकी

BARABANKI : धीरे – धीरे ही सही मगर पुलिस मीडिया की खबरों पर लगा रही है सत्यता की मुहर

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

बाराबंकी पुलिस ने आज आखिर मान ही लिया कि लड़की के साथ किसी एक व्यक्ति ने नही बल्कि सामूहिक दुष्कर्म हुआ था । आज इसी लिए पुलिस ने दूसरे आरोपी को गिरफ्तार कर मीडिया के सम्मुख प्रस्तुत किया और जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया । इस चर्चित जघन्य हत्याकाण्ड के लिए लगातार दूसरे दिन जिलाधिकारी और प्रभारी पुलिस अधीक्षक ने संयुक्त प्रेसवार्ता की ।

बाराबंकी जनपद के थाना सतरिख इलाके में नाबालिग दलित लड़की के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या किए जाने की खबर में मीडिया ने जो जो आशंकाएं जाहिर की थी उस पर पुलिस सत्यता की मुहर लगाती जा रही है । जैसे पहले दिन से ही मीडिया लड़की को नाबालिग कह रही थी मगर पुलिस इसे मानने को तैयार ही नही थी फिर साक्ष्यों के आधार पर पुलिस ने माना कि लड़की नाबालिग थी ।

मीडिया पहले ही दिन से यह आशंका जता रहा था कि जिस हालात में लड़की का शव मिला इससे लगता है कि घटना में एक से अधिक लोग थे और आज पुलिस ने भी दूसरे आरोपी को पेश कर इस पर भी मुहर लगा दी । इन बातों से स्पष्ट है कि ग्रामीणों और परिजनों ने जो मीडिया के माध्यम से आशंका जाहिर की वह पूर्णतया सत्य थी ।

जिलाधिकारी के साथ आज एक बार फिर इस मामले में अपनी बात रखने आये बाराबंकी के प्रभारी पुलिस अधीक्षक आर.एस. गौतम ने बताया कि पूर्व में पकड़े गए मुख्य आरोपी दिनेश गौतम ने दूसरे आरोपी ऋषिकेश के साथ मिलकर घटना कारित करने की बात को स्वीकार किया है । ऋषिकेश गाँव में ही किराने की दुकान करता था और उसी ने अस्पताल में बहन का इलाज करा रहे दिनेश को लड़की के खेत में अकेले होने की सूचना दी थी । दोनों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया और आज ऋषिकेश ने भी अपना गुनाह कबूल कर लिया है । 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]