अर्णब की गिरफ्तारी का अन्वय नाइक के परिवार ने किया स्वागत, कहा- हमें सिर्फ न्याय चाहिए – भारत

अर्णब की गिरफ्तारी का अन्वय नाइक के परिवार ने किया स्वागत, कहा- हमें सिर्फ न्याय चाहिए

  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अन्वय नाइक (Anvay Naik) के परिजनों ने बुधवार को पत्रकार अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी का स्वागत किया है। अर्णब पर 53 वर्षीय इंटीरियर डिजायनर अन्वय नाइक और उनकी मां को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है।

महाराष्ट्र की रायगढ़ पुलिस ने बुधवार की सुबह बड़े नाटकीय घटनाक्रम के बाद अर्णब गोस्वामी को गिरफ्तार किया। पीटीआई के अनुसार, अन्वय नाइक की पत्नी अक्षिता नाइक (Akshita Naik) ने कहा कि मैं मुंबई पुलिस (Mumbai Police) का धन्यवाद करना चाहती हूं जिनकी वजह से ये दिन मेरी जिंदगी में आया है
मैंने बहुत धैर्य रखा था।

बावजूद इसके कि मेरे पति और मेरी सास मां वापस नहीं आ सकते, लेकिन मेरे लिए वे अभी भी जिंदा हैं। इससे पहले बुधवार की दोपहर मीडिया से बातचीत में अन्वय की बेटी और पत्नी ने कहा कि उन्होंने बहुत इंतजार किया है और उन्हें उम्मीद है कि न्याय मिलेगा।

अक्षिता नाइक ने कहा, ‘मेरे पति ने सुसाइड नोट में तीन लोगों का नाम लिखा था, लेकिन उन लोगों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं हुआ। आज महाराष्ट्र पुलिस ने एक्शन लिया है. मैं उनका धन्यवाद करती हूं. अगर मेरे पति को पैसा मिल गया होता, तो वे आज जीवित होते.’

नाइक के परिजनों ने दावा किया कि उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय, साइबर सेल डिपार्टमेंट और आर्थिक अपराध शाखा को इस मामले में पत्र लिखा, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।

अन्वय की बेटी अदन्या नाइक (Adnya Naik) ने कहा, ‘रिपब्लिक (Republic) ने मेरे पिता को 83 लाख रुपये का भुगतान नहीं किया। बाबा (पिता जी) ने उन्हें ईमेल भी किया, लेकिन उन्हें कोई जवाब नहीं मिला मेरे पिता को लगातार धमकी दी जाती रही, बाइकर्स ने उनका पीछा किया। लोग घर आते थे और बैठ जाते थे। हमारे फोन टैप किए गए। उन्होंने मेरा करियर भी तबाह करने की धमकी दी.’


  •  
  • 2
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Latest Post

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]