अखिलेश ने BJP को बताया बहुत झूठी पार्टी : कहा- सरकार बताए गरीबों को कब तक लगेगी वैक्सीन ? – नेटीजन विशेष

अखिलेश ने BJP को बताया बहुत झूठी पार्टी : कहा- सरकार बताए गरीबों को कब तक लगेगी वैक्सीन ?

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने विवेकानंद जयंती के दिन भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने बीजेपी को सबसे झूठी पार्टी बताया और कहा कि सरकार को यह बताना चाहिए कि गरीबों को मुफ्त में कोरोना वायरस की वैक्सीन कब तक लगा दी जाएगी। सरकार को यह बताना चाहिए।

कभी वैक्सीन को बीजेपी का बताकर नहीं लगवाने का ऐलान करने वाले अखिलेश ने नेताओं से वैक्सीन समय पर लगवा लेने की प्रधानमंत्री की अपील के संबंध में पूछे जाने पर कहा कि मुझे इसका प्रोटोकॉल नहीं मालूम।

इसका प्रोटोकॉल सरकार को तय करना है। उन्होंने सरकार को घेरते हुए सवाल किया कि वे बताएं कि बजट उन्हें कितना मिला है? यूपी के पूर्व सीएम ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि किसान, नौजवान और हर तबके के लोग बीजेपी की सरकार को हटाना चाहते हैं।

किसान आंदोलन को लेकर अखिलेश ने कहा कि धरने पर बैठे किसानों की बात नहीं मानी है तो कम से कम सुप्रीम कोर्ट के कहने पर सरकार को चाहिए कि कृषि कानून वापस ले ले. सरकार को ये कानून तुरंत वापस ले लेने चाहिए. उन्होंने बीजेपी को किसानों की आय दोगुनी करने का वादा याद दिलाया और कहा कि अगर किसान एमएसपी मांग रहे हैं तो सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वह एमएसपी मिलना सुनिश्चित करे.

विवेकानंद के बहाने भी किया वार

अखिलेश यादव ने स्वामी विवेकानंद के बहाने भी बीजेपी पर वार किया। यूपी के पूर्व सीएम ने कहा कि आज स्वामी विवेकानंद की जयंती मनाई जा रही है। जो रास्ता स्वामी विवेकानंद ने दिखाया था, उसपर चलने का संकल्प लेना होगा।

उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद ने कहा था कि भारत की धरती पर धर्म बहुत है लेकिन यहां के लोगों को जरूरत है रोटी की और रोजगार की। उनकी जयंती के दिन सबसे बड़ा संकल्प यही होगा कि जो भी सरकार बने वह रोजी-रोटी दे। रोजगार कैसे मिले इस दिशा में काम करना होगा।

ओवैसी पर भी साधा निशाना

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश ने एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साधा। ओवैसी ने आरोप लगाया था कि पिछली सरकार ने उन्हें यूपी नहीं आने दिया। अखिलेश ने कहा कि जब राजनीति में था भी नहीं, तब से समाजवादियों का रिश्ता आजमगढ़ से रहा है।

नेताजी (मुलायम सिंह यादव) से लेकर समाजवादियों के साथ आजमगढ़ की जनता हमेशा खड़ी रही है। गौरतलब है कि 2022 के चुनाव में छोटे दलों के साथ गठबंधन कर उम्मीदवार उतारने का ऐलान कर चुके ओवैसी कार्यकर्ता सम्मेलन के लिए अखिलेश यादव के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ गए हैं।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]