आगरा के किसानों ने राष्ट्रपति से की है इच्छा मृत्यु की मांग – आगरा

आगरा के किसानों ने राष्ट्रपति से की है इच्छा मृत्यु की मांग

old file photo farmer protesting

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इनर रिंग रोड व लैंड पार्सल भूमिअधिग्रहण घोटाले से पीड़ित 11 किसानों का प्रतिनिधिमंडल दिनांक 23 नवम्बर को दोपहर 12 बजे मंडलायुक्त को महामहिम राष्ट्रपति के नाम इच्छा मृत्यु की माँग का ज्ञापन सौपेंगे।

आपको बताते चलें कि आगरा इनर रिंग रोड एवँ लैंड पार्सल के अधिग्रहित की गई जमीन में मुआवजे के नाम पर दोहरी नीति अपनाई गई। जिसमें अधिकारियों ने अपने चहेतों को भारी मात्रा में फायदा पहुचाया। और किसानों को गुमराह किया गया। इस घोटाले की जांच आगरा की एडीएम प्रशासन निधि श्रीवास्तव ने जाँच कार्यवाही करके मंडलायुक्त को सौप दी है।

लेकिन मंडलायुक्त उक्त जाँच को दबाकर बैठे हैं। भ्र्ष्टाचार में सलिप्त लोगों को बचाने के चक्कर में लगे हुए हैं। इससे किसानों को यही प्रतीत होता है। कि कोई न कोई साठगाँठ हो गई है। इसलिए भ्रष्टाचारियों को बचाया जा रहा है।

किसान नेता श्यामसिंह चाहर ने बताया है कि उक्त भ्रष्टाचार में सलिप्त दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की माँग को लेकर कई बार प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री एवँ राज्यपाल तथा शासन के वरिष्ठ अधिकारियों को प्रार्थना पत्र लिखकर भेजे गए हैं। लेकिन कार्यवाही के नाम पर कुछ नहीं हो रहा है।

किसान नेता सोमबीर यादव ने कहा है कि किसान लगातार चार साल से चार गुने मुआवजे की माँग कर रहे हैं। लेकिन किसानों की कोई सुनने वाला नहीं है।
इस भूमिअधिग्रहण में किसानों की उपजाऊ जमीने कौड़ियों के भाव में गुमराह करके छीन ली गई। कुछ किसानों को बिना मुआवजा दिये ही बेदखल कर दिया गया है।

किसान भूमिहीन हो गए हैं।

अब किसानों को दो वक़्त की रोटियों के लाले पड़ रहें हैं।अब किसान करे तो क्या करें। मरता क्या नहीं करता। पीड़ित किसान रामगोपाल शिवप्रसाद मुकेश पाठक संजय तोमर का कहना है कि जिये तो कैसे जिये हमारी रोजी रोटी एवँ खाने कमाने का जरिया जमीन को कौड़ियों के भाव हमें गुमराह कर हमें वे घर कर दिया है।

अब हमारा जीना मुश्किल हो गया है। अब ऐसे भ्रष्टाचार के माहौल में देश में हम जिन्दा रहना नहीं चाहते हैं। यहाँ किसानों के साथ सरासर अन्याय हो रहा है। तथा भ्रष्टाचारियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। भ्रष्टाचार में सलिप्त लोगों को बचाया जा रहा है। इसलिए हम देश के महामहिम राष्ट्रपति महोदय से इच्छा मृत्यु की माँग कर रहे हैं।

देश के महामहिम महोदय हमें इच्छा मृत्यु प्रदान करें। या फिर भ्रष्टाचारियों के खिलाफ विधिक कानूनी कार्यवाही कराने के लिये उत्तर प्रदेश सरकार को आदेशित करें।


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]