केदारनाथ आपदा में जान गंवाने वालों के कंकाल ढूंढने के​ लिए 10 सर्च टीमें रवाना, 7 दिन चलेगा ऑपरेशन – भारत

केदारनाथ आपदा में जान गंवाने वालों के कंकाल ढूंढने के​ लिए 10 सर्च टीमें रवाना, 7 दिन चलेगा ऑपरेशन

The Netizen News

रुद्रप्रयाग: केदारनाथ आपदा में लापता लोगों के नर कंकालों की खोज के लिए पुलिस और एसडीआरफ द्वारा चार दिवसीय सर्च अभियान शुरू कर दिया गया है। बुधवार सुबह सोनप्रयाग से दस टीमें इस खोजबीन अभियान के लिए रवाना हो गईं।

केदारनाथ एसपी नवनीत सिंह भुल्लर इन टीमों की निगरानी करेंगे। हर टीम का नेतृत्व एक-एक सब इंस्पेक्टर कर रहे हैं, जबकि टीम में उत्तराखंड पुलिस के दो कांस्टेबल और एसडीआरएफ के दो कांस्टेबल शामिल हैं। एक फार्मासिस्ट भी हर टीम के साथ तैनात हैं।

सर्च अभियान के लिए 10 टीमों का हुआ गठन

गठित की गई टीमों में जनपद रुद्रप्रयाग से तीन सब इंस्पेक्टर और आठ कांस्टेबल, जनपद चमोली से दो सब इंस्पेक्टर और छः कांस्टेबल, जनपद पौड़ी गढ़वाल से दो सब इंस्पेक्टर और छः कांस्टेबल, एसडीआरएफ से तीन सब इंस्पेक्टर, एक हेड कांस्टेबल और 19 कांस्टेबल, दस फार्मासिस्ट सहित कुल 60 लोग शामिल हैं. स्थानीय गाइड्स को रास्ता बताने के लिए हर टीम के साथ जोड़ा गया है।

गौरतलब है कि साल 2013 में 16-17 जून की रात आए प्रलय ने केदारनाथ घाटी में सबकुछ तबाह कर दिया था। इस आपदा में हजारों लोगों की जान गई थी और हजारों लोग हो गए थे। आपदा के सात सालों बाद भी लापता लोगों के नर कंकालों की खोज जारी है।

आपदा के समय लोगों ने अपनी जान बचाने के लिए केदारनाथ से विभिन्न ट्रेकिंग मार्गों का सहारा लिया था मगर रास्ता भटकने के कारण उन्हें मौत का शिकार होना पड़ा।

आपदा के बाद से आज तक हजारों लोगों के शव बरामद नहीं हो पाए हैं। अब सर्च अभियान चलाकर नर कंकालों की खोज की जा रही है और उनके डीएनए सैंपल लिए जा रहे हैं।

बीते वर्षों में भी इस आपदा में लापता लोगों के मृत शरीर व नर कंकालों की खोज के लिए टीमें गठित कर सर्च अभियान चलाया गया था। मिले हुए नर कंकालों का डीएनए सैंपल लेने के बाद रीति-रिवाज के अनुसार उनका अंतिम संस्कार किया गया था।


The Netizen News

अपने क्षेत्रीय और जनपदीय स्तर की सभी घटनाओ से जुड़े अपडेट पाने के लिए - सोशल मीडिया पर हमे लाइक, सब्सक्राइब और फॉलो करें -

फेसबुक के लिए यहाँ क्लिक करें

ट्विटर के लिए यहाँ क्लिक करें

यूट्यूब चैनल के लिए

Subscribe To Our Newsletter

[mc4wp_form id="319"]